60 पुलिस थाने, 250 वार्ड, हजार से ज्यादा बूथ... चुनौती होगा चुनाव

जयपुर समेत अन्य शहरों में भी निकाय चुनाव हो रहे हैं लेकिन जयपुर शहर में होने वाले चुनावों का दायरा उनसे कहीं बड़ा है। बड़ी बात यह है कि चुनाव ड्यूटी के दौरान किसी भी पुलिसकर्मी की छुट्टी की एप्लीकेशन फिलहाल नहीं ली जा रही है।

By: JAYANT SHARMA

Updated: 17 Oct 2020, 10:13 AM IST

जयपुर
महीने के अंत में होने वाले निगम चुनाव को लेकर जयपुर पुलिस कमिश्नरेट ने तैयारियां शुरू कर दी है। पुलिस कमिश्नेट कार्यालय से पुलिस थानों के थानाधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे अपने—अपने क्षेत्र में आने वाले वार्डों की सूची बनाएं ताकि जल्द ही इस बारे में सुरक्षा बंदोबस्त की प्लानिंग की जा सके। यह लिस्ट सोमवार तक मांगी गई है और इस लिस्ट के आधार पर जयपुर शहर में चुनाव बंदोबस्त किया जाएगा। जयपुर समेत अन्य शहरों में भी निकाय चुनाव हो रहे हैं लेकिन जयपुर शहर में होने वाले चुनावों का दायरा उनसे कहीं बड़ा है। बड़ी बात यह है कि चुनाव ड्यूटी के दौरान किसी भी पुलिसकर्मी की छुट्टी की एप्लीकेशन फिलहाल नहीं ली जा रही है।


साठ थाने और 250 वार्ड, चुनौती होगा चुनाव
जयपुर शहर में चार पुलिस थानों में साठ से ज्यादा थाने हैं। इनमें दुर्घटना थाना और महिला थाना स्टाफ को छोड़ दिया जाए तो करीब साठ पुलिस थानों की टीम जयपुर शहर में अपराध रोकने और कानून व्यवस्था को काबू करने के लिए काम करती है। पहले वार्डों की संख्या जब साठ थी उस समय थानों की संख्या करीब पचपन थी। उसके बाद वार्ड बढ़कर 91 हुए लेकिन थानों की संख्या नहीं बढ़ी और अब वार्डों की संख्या करीब तीन गुना तक बढ़ गई ऐसे में चुनाव को शांति पूर्ण कराना चुनौती बनता जा रहा है। हर थाने में करीब पचपन से साठ पुलिसकर्मियों का स्टाफ स्वीकृत है लेकिन वर्तमान में औसतन चालीस से पैंतालीस पुलिसकर्मी हर थाने में तैनात हैं। यह संख्या जयपुर शहर के थानों की है।

दो गज की दूरी, मास्क की उपयोगिता और एक हजार से ज्यादा बूथ
पुलिस अफसरों का कहना है कि चुनाव के दौरान इस बार सिर्फ सुरक्षा बंदोबस्त ही चुनौती नहीं है। असली चुनौती कोरोना है। दो गज की दूरी और मास्क की उपयोगिता को सख्ती से लागू कराना होगा। जयपुर शहर पिछले करीब एक महीने से पूरे प्रदेश में शीर्ष पर है। हर दिन औसतन चार सौ मरीज कोरोना के सिर्फ जयपुर शहर से ही आ रहे हैं। दो गज की दूरी बने रहे और भीड़ नहीं हो इस कारण जिला प्रशासन इस बार बूथों की संख्या भी बढ़ाने की तैयारी में है। हर वार्ड में चार से छह बूथ बनाए जाने की तैयारी है। हर बूथ पर सात से आठ पुलिसकर्मियों का स्टाफ भी तैनात किया जाएगा तो आठ से दस हजार पुलिसकर्मी चुनाव के लिए चाहिए। जबकि लाइन और थानों का स्टाफ मिलाकर छह से सात हजार पुलिसकर्मी जयपुर में तैनात हैं। ऐसे में अन्य शहरों से पुलिस फोर्स की व्यवस्था की जानी है। इसे लेकर पत्र व्यवहार शुरु कर दिया गया है।

JAYANT SHARMA Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned