नेशनल ऑनलाइन पेंटिंग में जयपुर को 3 पुरस्कार

डीएवी महाविद्यालय श्रीगंगानगर की ओर से अखिल भारतीय ऑनलाइन चित्रकला प्रतियोगिता आयोजित की गई। इसमें जयपुर के तीन युवा कलाकारों ने देशभर के प्रतिभागियों के बीच पहचान बनाई है।

By: surendra kumar samariya

Published: 12 May 2020, 09:56 PM IST

कोरोना के कहर ( Corona virus ) के बीच आर्टिस्ट अपने आर्ट को प्रदर्शित कर लोगों को जागरूक कर रहे है। साथ ही अपने आर्ट के जरिए पहचान भी बना रहे है। हाल ही डीएवी महाविद्यालय श्रीगंगानगर की ओर से अखिल भारतीय ऑनलाइन चित्रकला प्रतियोगिता आयोजित की गई। इसमें जयपुर ( Jaipur ) के तीन युवा कलाकारों ने देशभर के प्रतिभागियों के बीच पहचान बनाई है। प्रतियोगिता के लिए 21 अप्रेल से 30 अप्रेल तक आवेदन मांगे गए। इसके बाद दिल्ली, मुंबई, अहमदाबाद, पुणे, देहरादून और सिक्किम और राजस्थान के 100 से अधिक प्रतिभागियों ने काम भेजा। इनमें वाटर कलर, ऑयल कलर, ग्राफिक, डिजिटल टेक्नोलॉजी से बने आर्ट शामिल हुए। महाविद्यालय प्राचार्य डॉ. मीनू पुनिया ने बताया कि ने बताया कि कॉम्पिटीशन में कई रंग देखने को मिले।

गिनीज बुक रिकॉर्ड धारी बने निर्णायक

इस कॉम्पिटीशन में सीनियर और जूनियर कैटेगरी रखी गई। निर्णायकों में रामायण और महाभारत के लिए चित्रकारी कर चुके विजेंद्र शर्मा ने सभी काम देखा। शर्मा के नाम सबसे लंबी पेंटिंग का गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड भी है। महाविद्यालय में विभागाध्यक्ष विवेक काकड़ा ने बताया कि सभी प्रतिभागियों को सर्टिफिकेट दिए जाएंगे। साथ ही कलाकृतियों कि ऑनलाइन प्रदर्शनी भी लगाई जाएगी।

सीनियर कैटेगरी में जयपुर को दो पुरस्कार

प्रतियोगिता की सीनियर कैटेगरी में प्रथम स्थान पर पदमपुर के अमरदीप रहे। वहीं, दूसरे स्थान पर जयपुर के अजय दर्शन सिंह राजावत और तीसरे स्थान पर राजस्थान स्कूल ऑफ आर्ट के अध्यक्ष मक्खन सिंह गुर्जर की कलाकृति को चुना गया। इसके अलावा सांत्वना पुरस्कार में भी जयपुर के प्रदीप शर्मा के अलावा श्रीगंगानगर के तरूरण, बीकानेर के राम कुमार चुने गए। जूनियर कैटेगरी में टोंक के केशव कुमावत प्रथम, टोंक की प्रतीक्षा जैन द्वितीय और बीकानेर की दिशा दाधीज तीसरे स्थान पर रही।

Corona virus
surendra kumar samariya Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned