Navratri 2020 - घोड़े पर आ रहीं मां दुर्गा, जिनपर होंगी प्रसन्न उन्हें तुरंत मिलेगा यह फल

शारदीय नवरात्रि इस वर्ष करीब एक महीने की देरी से 17 अक्टूबर से प्रारंभ होंगी। अधिक मास के कारण इस बार नवरात्रि में विलंब हुआ है. इस बार मां दुर्गा घोड़े की सवारी करते हुए पृथ्वी पर आएंगी। पौराणिक ग्रंथों में नवरात्रि में दुर्गाजी के वाहनों के बारे में विस्तार से बताया गया है.

By: deepak deewan

Published: 30 Sep 2020, 05:44 PM IST

जयपुर. शारदीय नवरात्रि इस वर्ष करीब एक महीने की देरी से 17 अक्टूबर से प्रारंभ होंगी। अधिक मास के कारण इस बार नवरात्रि में विलंब हुआ है. इस बार मां दुर्गा घोड़े की सवारी करते हुए पृथ्वी पर आएंगी। पौराणिक ग्रंथों में नवरात्रि में दुर्गाजी के वाहनों के बारे में विस्तार से बताया गया है.

नवरात्रि पर मां दुर्गा के धरती पर आगमन और प्रस्थान में वाहन का विशेष महत्व होता है। माता के आने और जाने के अलग—अलग वाहन रहते हैं. इस बार नवरात्रि पर मां दुर्गा का आगमन अश्व यानि घोड़े पर होगा। नवरात्रि के समापन पर देवी मां हाथी पर बैठकर प्रस्थान करेंगी। ज्योतिषाचार्य पंडित सोमेश परसाई बताते हैं कि देवी भागवत पुराण के अनुसार नवरात्रि पर जब दुर्गाजी घोड़े की सवारी करते हुए आती हैं, तब देश में कुछ हद तक विप्लवकारी स्थितियां निर्मित होती हैं।

हालांकि देवी भक्तों के लिए इसका अर्थ बहुत सकारात्मक माना गया है. दुर्गाजी के अश्व पर आने का अर्थ यह है कि जिन लोगों पर उनकी कृपा होगी, वे अश्व की गति के सामान ही पुण्य फल और सफलता प्राप्त कर सकते है। नवरात्रि के दौरान विश्वासपूर्वक आराधना करे तो देवी की प्रसन्नता और उनके आशीर्वाद से हमें त्वरित फल प्राप्त होंगे.

deepak deewan
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned