सरकार के साथ वार्ता विफल, लिखित आश्वासन पर अड़े बेरोजगार

मोटर गैराज मंत्री राजेंद्र यादव के साथ बेरोजगारों की वार्ता विफल
सभी मांगों को लेकर बिंदुवार चर्चा की
मुख्यमंत्री से मिलकर सभी मांगों का अतिशीघ्र निस्तारण करवाने का दिया आश्वासन
लेकिन लिखित आश्वासन के बिना महासंघ ने किया महापड़ाव समाप्त करने से इंकार
जारी रहेगा युवाओं का महापड़ाव
दो दिन में मांगें पूरी नहीं हुई तो आंदोलन करेंगे युवा

By: Rakhi Hajela

Published: 23 Feb 2021, 06:51 PM IST


मोटर गैराज मंत्री राजेंद्र यादव के साथ मंगलवार को हुई बेरोजगार युवाओं के प्रतिनिधिमंडल की वार्ता भी विफल हो गई। ऐसे में अब राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के बैनर तले धरने पर बैठे बेरोजगार युवाओं ने अपना महापड़ाव जारी रखने का एलान किया है। महासंघ के प्रदेशाध्यक्ष उपेन यादव ने कहा कि मंगलवार को मोटर गैराज मंत्री राजेंद्र यादव महापड़ाव स्थल पर आए और उन्होंने हमारी सभी मांगों पर बिुंदवार चर्चा की साथ ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मिलकर सभी मांगों का अति शीघ्र निस्तारण करवाने का आश्वासन दिया। उपेन यादव ने कहा कि उनकी मांगों पर जब तक सरकार लिखित में आश्वासन नहीं देती महापड़ाव जारी रहेगा। साथ ही उन्होंने चेतावनी दी कि अगर 2 दिनों में उनकी मांगों को लेकर कोई सहमति नहीं बनती है तो सभी भर्तियों से जुड़े हुए बेरोजगारों को जयपुर में एकत्रित किया जाएगा और जयपुर में विशाल आंदोलन किया जाएगा।
पहले भी असफल हो चुकी है वार्ता
गौरतलब है कि इससे पूर्व भी बेरोजगार युवाओं के साथ वार्ता के कई दौर हो चुके हैं लेकिन सभी असफल रहे। सोमवार को तकनीकी शिक्षामंत्री डॉ. सुभाष गर्ग, डीओपी सेकेट्री हेमंत गेरा, आईएएस सिद्धार्थ महाजन और डीएसओ राष्ट्रदीप यादव के साथ वार्ता हुई थी लेकिन उसमें कोई समझौता नहीं हो पाया। बेरोजगार युवा लिखित आश्वासन दिए जाने की मांग पर अड़े रहे जो उन्हें नहीं मिला था। इससे पूर्व 20 फरवरी को एडीएम शंकर लाल सोनी और डीएसओ राष्ट्रदीप यादव से बेरोजगारों की मांगों को लेकर वार्ता हुई थी और 18 फरवरी को संयुक्त सचिव जय सिंह और प्रमुख शासन सचिव हेमंत गेरा से वार्ता हुई लेकिन वह वार्ता भी विफल रही थी।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned