अब नहीं सड़ेगा राजस्थान का प्याज, इंटरनेशनल मार्केट में फैलाएगा अपनी महक

उदयपुर में ग्लोबल राजस्थान एग्रीटेक के दौरान ऑलिटिया फूड्स और सरकार के बीच एमओयू साइन हुआ है।

By: पुनीत कुमार

Updated: 14 Nov 2017, 05:35 PM IST

राजस्थान का पर्यटन, यहां की मेहमाननवाजी, रहन-सहन और खान-पान का खुमार तो पहले से ही दुनियाभर में छाया ही हुआ है, वहीं अब राजस्थान की धरती की पैदावार भी दुनियाभर में अपनी मिसाल कायम करने जा रही है। प्रदेश में ऑलिव टी के सफलता के बाद अब यहां की प्याज दुनियाभर अपनी स्वाद का जादू बिखेरने को तैयार है। यहां के किसानों और उनकी कमाई में और अधिक इजाफा करने के इरादे से जयपुर की आॅलिटिया फूड्स कंपनी अब प्याज की प्रोसेसिंग यूनिट लगाने जा रही है। जिसके जरिए प्याज से आॅनियन फ्लैक्स, पाउडर और पेस्ट का उत्पादन किया जाएगा। जो विदेशी बाजार तक भेजी जाएगी। तो प्याज को अब इंटरनेशनल मार्केट में नई पहचान के साथ खास जगह मिल सकेगी।

 

40 करोड़ रुपए से तैयार होगी यूनिट...

 

बता दें कि बीते दिनों उदयपुर में ग्लोबल राजस्थान एग्रीटेक के दौरान ऑलिटिया फूड्स और सरकार के बीच एमओयू साइन किया गया। जिसके बाद लगभग 40 करोड़ रुपए की लागत से कंपनी सीकर में अपना डीहाइड्रेशन प्याज की प्रोसेसिंग यूनिट लगाएगी। जहां इस प्रोसेसिंग यूनिट के जरिए किसानों से सीधे प्याज खरीद कर प्याज का पाउडर, पेस्ट और आॅनियन फ्लैक्स तैयार किए जाएंगे।

 

किसानों को होगा ये फायदा...

 

कंपनी के डायरेक्टर 41 वर्षीय धरमपाल गढ़वाल ने कहा कि इस यूनिट के तैयार होने के बाद यहां के किसानों को काफी फायदा होगा। प्याज से तैयार पाउडर, पेस्ट और आॅनियन फ्लैक्स जिसकी इंटरनेशनल मार्केट में अच्छी खासी डिमांड है। जबकि प्रदेश के शेखावटी क्षेत्र में प्याज की बंपर पैदावार होती है लेकिन किसानों को प्याज उपज की पूरी कीमत नहीं मिलने से उन्हें हर साल इसे फेंकना तक पड़ जाता है। लेकिन अगले साल अप्रेल मई तक आॅनियन प्रोसेसिंग यूनिट स्थापित होने के बाद किसानों को प्याज की पूरी कीमत देने की कोशिश कंपनी करेगी। जिससे उनके आमदनी में इजाफा होगा।

 

प्रदेश में पहली बार होने जा रहा ऐसा...

 

गौरतलब है कि इस कंपनी ने सरकार से हुए एमओयू के बाद इससे पहले भी जयपुर के ढिंढोल में आॅलिव टी की प्रोसेसिंग यूनिट भी लगाई है। इसके बाद राजस्थान में तैयार आॅलिव टी की डिमांड देश दुनिया में की जा रही है। जिसके बाद अब राजस्थान में पहली बार डीहाइड्रेशन प्याज की प्रोसेसिंग यूनिट लगाने की तैयारी की जा रही है। यह किसानों को एक नया अवसर देने वाला साबित होगा, जो उनके प्याज के फसल की बर्बादी को रोकने के साथ उसका उन्हें उचित हक भी दिलवाएगा।

 

Show More
पुनीत कुमार
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned