निर्भया की मां आशा देवी को मिलेगा भारत गौरव अवॉर्ड

- आशा देवी का लंदन ब्रिटिश पार्लियामेंट में होगा सम्मान
- संस्कृति युवा संस्था 17 जुलाई को करेगी आयोजन

निर्भया के चारों गुनहगारों को शुक्रवार सुबह फांसी हो गई है। इन गुनहगारों को मौत की सजा दिलाने के लिए निर्भया की मां आशा देवी ( Nirbhaya Mother Asha devi ) ने लंबा संघर्ष किया। साथ ही उन्होंने देश के हर परिवार के सामने गुनाह को नहीं दबाने बेटियों के सम्मान के लिए लड़ाई करने का संदेश भी दिया है। करीब साढ़े सात साल तक कोर्ट के चक्कर काटकर उन्होंने एक मिसाल पेश की है। इसी संघर्ष को सलाम करने के लिए संस्कृति युवा संस्था की ओर से उन्हें भारत गौरव अवॉर्ड से सम्मानित किया जाएगा। लंदन ( London ) के ब्रिटिश पार्लियामेंट ( British Parliament ) में यह आयोजन 17 जुलाई को होगा।

संस्कृति युवा संस्था के अध्यक्ष पं. सुरेश मिश्रा ने बताया कि आशा देवी ( Asha Devi ) ने न केवल निर्भया के लिए बल्कि हर बेटी के लिए न्याय मांगा है। इसलिए संस्था ने 'भारत गौरव' अवॉर्ड से सम्मानित करने का निर्णय लिया है। उल्लेखनीय है कि समारोह में देश-विदेश में भारत का नाम रोशन करने वाली प्रतिभाओं को अलंकृति किया जाता है।

अभी तक आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर, फिल्म कलाकार मनोज कुमार, आचार्य लोकेश मुनी, फिल्म निर्माता मधुर भंडारकर, जैन मुनी पुलकसागर, नोबल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी, सुलभ शौचालय के संस्थापक बिंदेश्वर पाठक, गीतकार शैलेश लोढ़ा, लंदन के सांसद विरेंद्र शर्मा, राजयोगिनी दादी जानकी, मेजर ध्यानचंद, गजल गायक जगदीश सिंह, योगगुरू एच.आर. नागेंद्र, नीरजा बहनोत जैसी हस्तियों को यह सम्मान मिल चुका है।

surendra kumar samariya Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned