28 मई की चिठ्ठी के बाद बिहार में घमासान, जेडीयू बोला रुटीन मामला, तो भाजपा ने बताया गंभीर

Ajeet Singh Parmar

Updated: 17 Jul 2019, 09:57:04 PM (IST)

Jaipur, Rajasthan, India

बिहार में स्पेशल ब्रांच की टीम अब राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ यानि आरएसएस समेत 19 संगठनों की कुंडली खंगालेगी। स्पेशल ब्रांच की इंटेलिजेंस विंग ने आरएसएस और उसके अनुषांगिक संगठनों के राज्य पदाधिकारियों के बारे में जानकारी इकट्ठा करने का आदेश दिया है। स्पेशल ब्रांच का यह आदेश सुर्खियों में है। इसके उजागर होने के बाद बिहार में राजनीति भी गरमा गई है। यह आदेश 28 मई 2019 को स्पेशल ब्रांच के सभी डिप्टी एसपी को जारी किया गया है। इसमें उनसे संगठनों के पदाधिकारियों के नाम और पते की जानकारी इकट्ठा करने के लिए कहा गया है। इस आदेश की कॉपी सामने आने के बाद बिहार पुलिस के आला अधिकारी कुछ भी बोलने से बच रहे हैं। इस मामले की खुलासे के बाद बिहार में राजनीतिक बवाल मच गया है। जहां एक ओर बीजेपी ने इसका विरोध किया है तो वहीं अब विपक्षी महागठबंधन ने कहा है कि अब एनडीए सरकार के दिन पूरे हो गए हैं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned