अब न आए कोरोना का कोई नया लिंक म्हारे देस, सतर्कता विशेष

कोरोना वायरस के लगातार बढ़ते केस को लेकर पुलिस सतर्क

By: jagdish paraliya

Published: 09 Apr 2020, 05:18 PM IST

स्टेट डेस्क टीम.. देश में लॉक डाउन की घोषणा के बाद अन्य प्रदेशों में रोजगाररत मजदूरों का पलायन शुरू हो गया। रेल और बस सेवा बंद होने के कारण मजदूर पैदल ही अपने घरों को लौट रहे थे। कोरोना वायरस को बढऩे से रोकने के लिए सरकार के आदेश के बाद 29 मार्च मध्यरात्रि राजस्थान की अन्य राज्यों से लगी सीमा को सील कर दिया गया।

मध्यप्रदेश: सीमा पर सख्ती, जवान मुस्तैद
बारां जिले से मध्यप्रदेश के गुना, श्योपुर, शिवपुरी जिलों की लगभग 165 किलोमीटर की सीमा लगती है। इस सीमा से जिले के छबड़ा सहित ६ थाना क्षेत्र जुड़े हुए हैं। इनकी एक दर्जन चौकियों के जवानों के अलावा और पुलिस जवानों की संख्या बढ़ा दी गई है। झालावाड़ जिले की मध्यप्रदेश से लगने वाली सीमा में आदिवासी सहरिया जनजाति के लोगों का निवास है। इस क्षेत्र से गुजर रहे राष्ट्रीय राजमार्ग 27 पर तो कुछ सतर्कता नजर आती है, यहां जनजीवन सामान्य होने के साथ लोग अपने कामकाज कर रहे हैं।

हरियाणा : मालवाहक वाहनों को अनुमति
बुहाना(झुंझुनूं). हरियाणा सीमा का आखिरी गांव निहालोठ। हर दिन यहां केवल पुलिस की टीम तैनात रहती थी, लेकिन बुधवार से मेडिकल टीम भी तैनात है। केवल मालवाहक वाहनों को आने की अनुमति है। वाहनों को आते ही रोका जा रहा है। चालक व परिचालक की मेडिकल टीम जांच करती है। सीकर जिले के गांवों से लगती हरियाणा सीमा को पूरी तरह से सील कर दिया गया है। श्यालोदडा, दलपतपुरा, पांचू खरकड़ा व डाबला से लगती हरियाणा की सीमा को बैरीकेडिंग व लगा कर पूरी तरह से बन्द कर दिया गया है।

उत्तरप्र्र्रदेश: गांवों के रास्तों से आवागमन
भरतपुर. भले ही कहने को जिले में हरियाणा व उत्तरप्रदेश से लगी सीमा सील की जा चुकी है, लेकिन हकीकत यह है कि गांवों के रास्तों से आवागमन हो रहा है। यही कारण है कि तीन दिन पहले भरतपुर से 15 जमातियों का दल उत्तरप्रदेश के ओल गांव पहुंचा था। जबकि बॉर्डर सील बताया गया था। इतना ही नहीं मेवात में कोरोना पॉजिटिव निकलने के बाद हरियाणा व यूपी सीमा पर सख्ती का दावा भी किया गया है। यहां मेडिकल टीम व पुलिस 24 घंटे मौजूद रहती है, लेकिन सन्नाटा ही पसरा रहता है।

राजस्थान: सीमा में चंबल नदी में गश्त
धौलपुर. मध्य प्रदेश की सीमा पर स्थित चंबल नदी में निगरानी करते पुलिस अधीक्षक मृदुल कच्छावा एवं अन्य पुलिसकर्मी। कोरोना के मुरैना में 22 मरीज सामने आने के बाद राजस्थान की सीमा में चंबल नदी में भी गश्त बढ़ाई गई है।

पंजाब: चुनाव से अधिक कड़ी सुरक्षा
हनुमानगढ़. जिले में अब तक कोरोना संक्रमण का एक भी केस नहीं मिला है। पंजाब व हरियाणा की सीमा पर भी लॉकडाउन की कड़ाई से पालना कराई जा रही है। स्थिति यह है कि पुलिस प्रशासन चुनाव से भी ज्यादा सतर्कता बरत रहा है। जिला पुलिस ने डेढ़ दर्जन जगहों पर नाके लगा रखे हैं। श्रीगंगानगर जिले में पंजाब से लगती सीमा पर जिले में आठ स्थानों पर नाकेबंदी चल रही है। जहां पुलिसकर्मियों व मेडिकल टीम तैनात है। यहां सबसे महत्वपूर्ण नाका साधुवाली है। इस नाके पर सख्ती बरती जा रही है।

गुजरात: 72 प्रवासी क्वारन्टाइन में
आबूरोड (सिरोही). मावल बॉर्डर पर वाहनों की आवाजाही बंद कर दी गई मावल बॉर्डर के पास स्थित एक निजी स्कूल में करीब 72 प्रवासियों के रहने की व्यवस्था की गई है। जिसमें उपखण्ड प्रशासन की ओर से भामाशाहों के सहयोग से भोजन की व्यवस्था की जा रही है। उदयपुर जिले में राजस्थान-गुजरात के रतनपुर बॉर्डर पर पुलिस बल तैनात है। अब सिर्फ अतिआवश्यक सेवा वाले वाहन ही इधर-उधर आ जा रहे है।

Show More
jagdish paraliya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned