राज्य विधानसभा में आज नहीं होगा प्रश्नकाल, विधेयकों पर चलेगी बहस

15 वीं विधानसभा के चल रहे छठे सत्र की कार्यवाही का आज आखिरी दिन है।

By: rahul

Published: 18 Sep 2021, 08:40 AM IST

जयपुर। 15 वीं विधानसभा के चल रहे छठे सत्र की कार्यवाही का आज आखिरी दिन है। शनिवार को कार्यवाही होने के कारण आज प्रश्नकाल नहीं होगा। आंज विधायकों को मंत्रियों से सवाल जवाब करने का मौका नहीं मिलेगा। भाजपा और अन्य विपक्षी विधायक सदन में हंगामा या मंत्रियों को घेर नहीं सकेंगे। आज सारी कार्यवाही को पूरा कराकर सदन को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया जाएगा।

शोकाभिव्यक्ति से शुरूआत—
सदन की कार्यवाही सुबह 11 बजे शुरू होते ही शोकाभिव्यक्ति होगी। विधानसभा के पूर्व सदस्य रहे दयाकृष्ण विजय के निधन पर सदन में 2 मिनट का मौन रखकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की जाएगी। इससे बाद अन्य विधायी कामकाज होगा। विधायक ध्यानाकर्षण प्रस्ताव के जरिए सरकार के सामने अपने मुद्दे रखेंगे। माकपा विधायक बलवान पूनिया ध्यानाकर्षण प्रस्ताव लेकर आएंगे। इसमें पूर्व और वर्तमान मंत्री, पूर्व-वर्तमान लोकसभा, राज्यसभा सांसद, विधायक, पूर्व विधायक, मेयर और जिला प्रमुख होने पर कृषक परिवार में सम्मिलित नहीं करने संबंधी संशोधन के लिए कृषि मंत्री लालचंद कटारिया का ध्यान आकर्षित करेंगे।

चार विधेयक होंगे पारित
सदन में ध्यानाकर्षण प्रस्ताव के बाद विधाय़ी कार्य पूरे कराए जाएंगे। इसमें राजस्थान पंचायत राज संशोधन विधेयक 2021, दंड विधियां राजस्थान संशोधन विधेयक 2021, राजस्थान कृषि विश्वविद्यालयों की विधियां संशोधन विधेयक 2020 और राजस्थान भू राजस्व संशोधन विधेयक 2021 को विचारार्थ लिया जाएगा। इन विधेयकों पर सदन में चर्चा होगी और उसके बाद इन विधेयकों को सदन में पारित कराया जाएगा।

आज कार्यवाही का अंतिम दिन—
विधानसभा सत्र की कार्यवाही का आज अंतिम दिन है। कार्य सलाहकार समिति की बैठक में भी 18 सितंबर तक ही सत्र चलाने का फैसला हुआ था। आज शाम को सदन में जरूरी विधायी कार्य कराकर कार्यवाही को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया जाएगा।

rahul Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned