राजस्थान में रेल यात्रियों की सुविधाएं बढ़ाने के लिए रेलवे का प्लान तैयार, इतने करोड़ रुपए होंगे खर्च

बीते दिनों केंद्रीय बजट में रेल बजट के तहत की घोषणाओं में प्रदेश के उत्तर पश्चिम रेलवे को पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में करीब 1736 करोड़ रूपए कम आवंटित हुए हैं।

By: kamlesh

Published: 05 Feb 2021, 06:12 PM IST

जयपुर। बीते दिनों केंद्रीय बजट में रेल बजट के तहत की घोषणाओं में प्रदेश के उत्तर पश्चिम रेलवे को पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में करीब 1736 करोड़ रूपए कम आवंटित हुए हैं। बावजूद इसके रेल मंत्रालय ने प्रदेश में चल रहे कई रेल प्रोजेक्टों को इस साल पूरा करने और आगामी वर्ष 2030 तक की कार्य योजना का खाका तैयार कर लिया है। उत्तर पश्चिम रेलवे जोन भी इस बार जोन में दोहरीकरण से ट्रेनों की रफ्तार तेज करने और यात्री सुविधाओं पर फोकस करेगा। जयपुर स्थित उत्तर पश्चिम रेलवे प्रधान कार्यालय में शुक्रवार को प्रेसवार्ता में जोन महाप्रबंधक आनन्द प्रकाश ने बजट संदर्भ की जानकारी दी।

महाप्रबंधक आनंद प्रकाश ने बताया कि रेल बजट में उत्तर पश्चिम रेलवे जोन को 4672.55 करोड़ रूपए आवंटित हुए हैं। बजट में इस बार न्यूनतम सरकार और अधिकतम शासन की अवधारणा को मूर्त रूप दिया गया है। हालांकि इस बार आवंटित राशि गत वित्तीय वर्ष की तुलना में करीब 1736 करोड़ रूपए कम है। लेकिन फिर भी इस बार जल्द पूरे हो रहे रेलवे प्रोजेक्टों के साथ ट्रेक दोहरीकरण व यात्री सुविधाओं को बढ़ाने की दिशा में त्वरित कार्रवाई की जा रही है।

बजट में इस बार नई रेलवे लाइनों और सुरक्षा को लेकर विशेष ध्यान केंद्रित किया गया है। यात्री सुविधाओं के लिए 462.58 करोड़, ट्रेक नवीनीकरण के लिए 500 करोड़, आरओबी और आरयूबी के लिए 334.51 करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। इंफ्रास्ट्रक्चर को मजबूत करने के लिए नई लाइन के लिए 316.76 करोड़, आमान परिवर्तन के लिए 80 करोड़ और दोहरीकरण के लिए 225 करोड़ रूपए का बजट प्रावधान इस वित्तीय वर्ष के लिए किया गया है।

इस साल प्रोजेक्ट पूरे होने की उम्मीद
रेलवे के अनुसार दौसा- गंगापुर सिटी लाइन पर ट्रेन संचालन इस साल शुरू होने की संभावना है। 92.67 किलोमीटर लंबाई वाले रेलवे प्रोजेक्ट का कार्य पूरा करने के लिए 160 करोड़ रूपए बजट प्रावधान किया गया है। वहीं गुढ़ा- ठठाणा मीठडी परीक्षण ट्रेक प्रोजेक्ट भी इस साल पूरा होने की उम्मीद है। परीक्षण ट्रेक प्रोजेक्ट के लिए भी बजट में 100 करोड़ रूपए आवंटित किए गए हैं।

इन प्रोजेक्टों को भी मिला बजट
आमान परिवर्तन-
मावली- बड़ी सादड़ी - 81.01 किमी- 50 करोड़
अहमदाबाद- हिम्मतनगर- 208.48 किमी - 240 करोड़

दोहरीकरण-
फुलेरा-डेगाना- 108.75 किमी- 32 करोड़
डेगाना- राईका बाग- 145 किमी- 100 करोड़
बागड़ग्राम- गुड़िया पेच डबलिंग- 47 किमी- 40 करोड़
अजमेर- बागडग्राम- 48.43 किमी- 25 करोड़

जल्द पूरे होंगे ये भी काम
उत्तर पश्चिम रेलवे में रेल विद्युतीकरण कार्य- बजट राशि 1062.36 करोड़
यहां लगेंगे एस्केलेटर- बजट 3.19 करोड़ रूपए
जयपुर गांधीनगर- 02
भगत की कोठी- 04
जोधपुर स्टेशन-0 2
रेवाड़ी- सादुलपुर बाईपास लाइन - बजट राशि 9.98 करोड़
जयपुर खातीपुरा सेटेलाइट रेलवे स्टेशन टमिर्नल सुविधा का विकास- बजट राशि 50 करोड़

डबल डेकर ट्रेन फरवरी में ब्रेक डाउन, मार्च में ट्रेक पर
उत्तर पश्चिम रेलवे जोन महाप्रबंधक आनंद प्रकाश ने बताया कि कम यात्रीभार के चलते जयपुर-दिल्ली सराय रोहिल्ला-जयपुर के बीच संचालित हो रही जोन की पहली डबल डेकर ट्रेन का संचालन रोका गया है। यात्रीभार की समीक्षा की जा रही है लेकिन संभवतया मार्च माह से ही डबल डेकर ट्रेन की सुविधा यात्रियों को मिल सकेगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned