अब मिट्टी में फैले खतरनाक रसायनों का होगा खात्मा

मिट्टी के प्रदूषकों को समाप्त करने वाले बैक्टीरिया की खोज

जलवायु परिवर्तन के कारणों में आएगी कमी

By: Suresh Yadav

Published: 25 Feb 2020, 08:56 PM IST

जयपुर। अब मिट्टी में फैले खतरनाक रसायनों का खात्मा संभव हो सकेगा। वैज्ञानिकों ने मिट्टी के एक ऐसे बैक्टीरिया की खोज का दावा किया है जो कि मिट्टी के विशैले तत्वों को खत्म करने में सक्षम है। न्यूयॉर्क स्थित कॉर्नेल विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं के अनुसार मिट्टी के बैक्टीरिया की एक नई प्रजाति की खोज की गई है जो कि उन कार्बनिक पदार्थों को तोडऩे में सक्षम है। इन कार्बनिक पदार्थों में कैंसर पैदा करने वाले रसायन होते हैं। ये रसायन कोयला, गैस, तेल आदि के जलने के दौरान निकलते हैं। इस नए बैक्टीरिया का नाम मैडिसियाना रखा गया है। इसकी खोज माइक्रोबायोलॉजी के प्रोफेसर जीन मैडसेन ने की थी, हालांकि 2017 में खोज की पुष्टि करने से पहले उनकी मृत्यु हो गई थी। यह शोध इंटरनेशनल जर्नल ऑफ सिस्टमैटिक एंड इवोल्यूशनरी माइक्रोबायोलॉजी में प्रकाशित हुआ है।
यह तो हम जानते ही हैं कि मनुष्यों सहित सभी पेड-पौधों और जानवरों में उपयोगी बैक्टीरिया होते हैं, जो हमें भोजन को पचाने और संक्रमण से लडऩे में मदद करते हैं। मिट्टी में रहने वाले बैक्टीरिया न केवल पौधों को बढऩे में मदद करते हैं, बल्कि तनाव का सामना करते हैं और कीटों से लड़ते हैं। यही नहीं बैक्टीरिया जलवायु परिवर्तन को जानने के लिए भी जरूरी है।
इस शोध में बाय़ोडीग्रेडेशन पर फोकस किया गया है। शोधकर्ताओं के अनुसार बैक्टीरिया दूषित मिट्टी में प्रदूषकों को तोडऩे में अहम भूमिका निभाते हैं।

Suresh Yadav Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned