अब हॉस्टल में स्टूडेंट्स की सुरक्षा पर फोकस


दिन में तीन बार सेनेटाइजेशन
विद्यार्थी बोले, बंद नहीं होने चाहिए हॉस्टल

By: Rakhi Hajela

Published: 17 Apr 2021, 02:46 PM IST



जयपुर, 17 अप्रेल
कोविड के खतरे को देखते हुए आज और कल यानी रविवार को राजधानी जयपुर सहित पूरे प्रदेश में कफ्र्यू रहेगा। वहीं प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों की परीक्षाएं भी स्थगित कर दी गई हैं। प्रदेश के कई विश्वविद्यालयों ने हॉस्टल में रहने वाले विद्यार्थियों को घर लौटने के लिए कह दिया था लेकिन राजस्थान विश्वविद्यालय प्रशासन ने फिलहाल हॉस्टल खुला रखने का ही निर्णय लिया है। विवि प्रशासन का फोकस अब हॉस्टल में रहने वाले विद्यार्थियों की सुरक्षा पर है।
इसलिए बंद नहीं किए हॉस्टल
गौरतलब है कि विवि में लॉ की परीक्षा चल रही थी जिसे स्थगित कर दिया गया है। साथ ही 29 अप्रेल से यूजी और पीजी की परीक्षाएं शुरू होने वाली थी। परीक्षा की तैयारी कर रहे विद्यार्थी हॉस्टल में रह रहे थे। सरकार की ओर से दो दिन कफ्र्यू लगाए जाने की घोषणा के बाद शुक्रवार दोपहर बाद विवि प्रशासन ने परीक्षा स्थगित किए जाने का निर्णय लिया। विवि प्रशासन से जुड़े सूत्रों के मुताबिक यदि ऐसे में शुक्रवार को हॉस्टल बंद करने का निर्णय लिया जाता तो कफ्र्यू के कारण स्टूडेंट्स अपने घरों तक नहीं पहुंच पाते।
हॉस्टल खुला रखना जरूरी
वहीं विवि के विभिन्न हॉस्टलों में रह रहे विद्यार्थियों का भी कहना है कि विवि का निर्णय उनके लिए हितकर है। प्रशासन को आगे भी हॉस्टल बंद नहीं करने चाहिए क्योंकि यहां विद्यार्थियों की संख्या काफी कम है। उनका कहना है कि वह कोविड गाइडलाइन की पूरी तरह पालना करते हुए हॉस्टल में रह रहे हैं, मैस भी बंद है।
एक विद्यार्थी कोविड पॉजिटिव
गौरतलब है कि विश्वविद्यालय के डीबीएन हॉस्टल में एक विद्यार्थी पिछले दिनों कोविड पॉजिटिव निकला था, जिसे प्रशासन ने हॉस्टल की ऊपरी मंजिल पर आइसोलेट कर दिया है। साथ ही मौके पर सुरक्षा गाड्र्स की व्यवस्था की गई है जिससे कोई अन्य विद्यार्थी जानबूझ कर या अनजाने में वहां चला ना जाए।
किया जा रहा सेनेटाइज
हॉस्टल में रह रहे विद्यार्थियों की सुरक्षा को देखते हुए विवि प्रशासन दिन में तीन बार सभी छात्रावासों को सेनेटाइज करवा रहा है। हॉस्टल में विद्यार्थियों को खास ताकीद की गई हैं कि वह आपस में कोई भी सामान शेयर नहीं करेंगे। मैस बंद कर दी गई है जिससे विद्यार्थी वहां ग्रुप में एकत्र नहीं हो सकें।
अब विद्यार्थियों की सुरक्षा पर फोकस
विवि के कुलपति प्रो. राजीव जैन का कहना है कि प्रशासन का फोकस विद्यार्थियों की सुरक्षा पर है। अभी हमने हॉस्टल बंद नहीं किए हैं लेकिन आवश्यकता होने पर उन्हें बंद किया जा सकता है।
परीक्षाएं स्थगित हो गई हैं लेकिन हॉस्टल बंद नहीं होने चाहिए क्योंकि ग्रामीण क्षेत्रों के विद्यार्थी यहां आकर पढ़ाई कर रहे हैं अगर हॉस्टल बंद हो गए तो उनके लिए समस्या हो जाएगी। बाहर जाकर किराए पर कमरा लेकर रहना सभी के लिए संभव नहीं है।
छात्र, अरावली हॉस्टल
हॉस्टल में एक विद्यार्थी कोविड पॉजिटिव हुआ था लेकिन शेष सभी छात्र सुरक्षित हैं। विवि प्रशासन दिन में तीन बार हॉस्टल को सेनेटाइज किया जा रहा है। स्टूडेंट्स अपने कमरे में रह कर ही पढ़ते हैं। सामाजिक दूरी के नियमों की पालना की जा रही है।
छात्र, डीबीएन हॉस्टल
विश्वविद्यालय प्रशासन ने हॉस्टल बंद नहीं किए हैं। अगर हॉस्टल बंद कर दिए जाते तो यहां रह रहे विद्यार्थियों के सामने घर तक पहुंचना भी संभव नहीं होता क्योंकि दो दिन के लिए पूरे राज्य में कफ्र्यू लगा हुआ है। कफ्र्यू समाप्त होने के बाद भी हॉस्टल बंद नहीं किए जाने चाहिए।
छात्र, अरावली हॉस्टल

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned