अल्पसंख्यकों के बाद अब ओबीसी वर्ग का जयपुर शहर अध्यक्ष पद पर दावा

-कांग्रेस के ओबीसी नेताओं का दावा, आज तक ओबीसी वर्ग से नहीं बना जयपुर शहर अध्यक्ष, 60 फीसदी से ज्यादा मतदाता ओबीसी वर्ग के हैं जयपुर शहर में, सीएम गहलोत और प्रदेश प्रभारी के समक्ष ओबीसी नेताओं ने शुरू की लॉबिंग

By: firoz shaifi

Updated: 22 Feb 2021, 11:49 AM IST

जयपुर। प्रदेश कांग्रेस की कार्यकारिणी घोषित होने के बाद अब जिलाध्यक्षों को लेकर कांग्रेस में कवायद शुरू हो गई है। जिलाध्यक्ष के नामों को लेकर कांग्रेस में उच्च स्तर पर मंथन चल रही है। हालांकि इन दिनों सबसे ज्यादा चर्चा जयपुर शहर अध्यक्ष पद को लेकर है। जयपुर शहर अध्यक्ष पद को लेकर कई बड़े चेहरे भी लॉबिंग कर रहे हैं।

इसी बीच जयपुर शहर अध्यक्ष पद पर अल्पसंख्यक वर्ग के दावे के बाद अब ओबीसी वर्ग से जुड़े नेताओं ने भी दावा ठोका है। इसके लिए ओबीसी वर्ग के नेताओं ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा और प्रदेश प्रभारी अजय माकन के यहां भी लॉबिंग शुरू कर दी है।

कहा जा रहा है कि जयपुर शहर अध्यक्ष पद को लेकर ओबीसी वर्ग से जुड़े नेता एक बड़ी बैठक का आयोजन भी करने जा रहा हैं जिसमें ओबीसी वर्ग की विभिन्न जातियों के प्रतिनिधि शामिल होकर प्रस्ताव पास कर कांग्रेस आलाकमान को देंगे, जिसमें जयपुर शहर अध्यक्ष पद पर ओबीसी वर्ग के नेताओं को ही मौका देने की मांग करेंगे।

ओबीसी वर्ग को आज तक नहीं मिला अध्यक्ष पद पर मौका
कांग्रेस से जुड़े ओबीसी वर्ग के नेताओं की माने तो आजादी से लेकर आज तक जयपुर शहर अध्यक्ष पद पर ओबीसी वर्ग को कभी भी मौका नहीं दिया गया है, जबकि अन्य वर्गों को कई बार प्रतिनिधित्व मिल चुका है।

ओबीसी वर्ग से जुड़े नेताओं का कहना है कि जयपुर शहर में 60 फीसगी से ज्यादा ओबीसी वर्ग से जुड़े लोग हैं, जिनमें ओबीसी वर्ग की तमाम जातियों के मतदाता शहर की आठों विधानसभा क्षेत्रों में निर्णायक भूमिका में हैं,इसके बावजूद भी कभी भी शहर की आठों विधानसभा क्षेत्रों से भी ओबीसी वर्ग को प्रतिनिधित्व नहीं दिया जाता है। ऐसे में इस बार ओबीसी वर्ग जयपुर शहर अध्यक्ष पद को लेकर ओबीसी नेता लामबंद हैं।


अल्पसंख्यक वर्ग भी जता चुका है दावा
वहीं महापौर चुनाव के समय से नाराज चल रहे अल्पसंख्यक वर्ग ने भी जयपुर शहर अध्यक्ष पद पर दावेदारी जताई थी। अल्पसंख्यक वर्ग से जुड़े एक विधायक और कई अन्य नेता लगातार इसके लिए लॉबिंग कर रहे हैं।


इनका कहना है
जयपुर शहर में 60 फीसदी से ज्यादा ओबीसी वर्ग के मतदाता हैं, कांग्रेस में आज तक ओबीसी वर्ग से जुड़े नेताओं को अध्यक्ष नहीं बनाया गया, अध्यक्ष बनाए जाने को लेकर कांग्रेस आलाकमान से मिलेंगे।
राजेंद्र सैन, संयोजक, कांग्रेस ओबीसी विभाग

आठों विधानसभा क्षेत्रों में ओबीसी को टिकट नहीं दिया जाता है, ओबीसी वर्ग कांग्रस के प्रति संगठित रहे, इसलिए जयपुर शहर अध्यक्ष पद पर ओबीसी वर्ग को प्रतिनिधित्व दिया जाए।
विमल यादव, निवर्तमान महामंत्री, जयपुर शहर

firoz shaifi Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned