flood in rajasthan : त्रिपाल जुटाने में जुटे अधिकारी

flood in rajasthan : राजस्थान में बरसात की पानी भी आफत बन गया। बाढ़ पीडि़तों के मदद के लिए उद्योग विभाग (Rajasthan Industries) ने अपने अधिकारियों को त्रिपाल (officer collect tripal in rajasthan) जुटाने का आदेश दिया है। देखें अधिकारी अब बाढ़ पीडि़तों की कैसे मदद करते हैं....

 

By: hanuman galwa

Published: 02 Aug 2019, 05:30 PM IST

उद्योग विभाग के कर्मचारी जुटाएंगे त्रिपाल
पहले चरण में करेंगे 300 से अधिक त्रिपाल वितरित

उद्योग विभाग (Rajasthan Industries) के अधिकारियों व कार्मिकों ने सामाजिक सरोकार के तहत जिम्मेदारी निभाने की अनूठी पहल की है।
उद्योग आयुक्त व सचिव सीएसआर डॉ. कृृृष्णा कांत पाठक ने बताया कि विभाग के अधिकारी व कर्मचारी फुटपातियों और जरूरतमंदों को बरसात के पानी से बचाव के लिए अच्छी क्वालिटी के त्रिपाल उपलब्ध कराएंगे।
उद्योग आयुक्त डॉ. पाठक ने बताया कि गुरुवार को आई तेज बारिश (heavy rain in rajasthan) के दौरान बेघर लोगों को सर ढंकने के लिए जगह तलाशते देख मानवीय भावना से उद्योग विभाग के अधिकारी व कर्मचारी पहल करके आगे आए हैं। उन्होंने बताया कि सामाजिक सरोकारों से जुड़ते हुए पहले चरण में 300 से अधिक त्रिपाल वितरित किए जाएंगे। डॉ. पाठक ने बताया कि सामाजिक सरोकार से जुड़ी इस गतिविधि से विभागीय कार्मिक स्वेच्छा से आगे आकर 300 त्रिपाल वितरण के लिए मंगवा लिए है, वहीं पुनित कार्य में हिस्सेदार बनने के लिए आगे आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि अधिकारी से कर्मचारी तक सभी इसमें स्वैच्छिक सहभागिता (social responsibility of business) निभा रहे हैं। उद्योग विभाग की इस पहल में अन्य विभाग, उपक्रम, औद्योगिक संघ, औद्योगिक प्रतिष्ठान आदि स्वेच्छा से जुडऩा चाहे तो उनका स्वागत होगा। इस अनूठी पहल की बैठक में अतिरिक्त निदेशक अविंद्र लड्ढ़ा, संयुक्त निदेशकों में संजीव सक्सेना, एसएस शाह, पीआर शर्मा, वाईएन माथुर, संजय मामगेन, उपनिदेशकों में धर्मेंद्र पूनिया, केके पारीक, बालेंद्र सिंह, चिरंजी लाल, निधि शर्मा, रवि गुप्ता, वित अधिकारी भारती मीणा, राजीव गर्ग, रष्मीकांत नागर, जिला उद्योग अधिकारी अनिल जैन, एसओ बद्री खोड़ा आदि ने महत्वपूर्ण सुझाव देते हुए इस तरह की गतिविधि को नियमित बनाने को कहा।

hanuman galwa Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned