रैंकिंग सुधारने के लिए अधिकारियों ने शुरू की सफाईकर्मियों की क्लास

नगर निगम के हवामहल पश्चिम, विद्याधर नगर और सांगानेर जोन के सफाई कर्मचारियों को स्वच्छता एप के बारे में जानकारी दी गई

By: Ashwani Kumar

Published: 15 Nov 2018, 01:01 AM IST

जयपुर। स्वच्छता रैंकिंग में राजधानी की स्थिति को सुधारने के लिए नगर निगम अधिकारियों ने प्रयास शुरू कर दिए हैं। बुधवार को नगर निगम के हवामहल पश्चिम, विद्याधर नगर और सांगानेर जोन के सफाई कर्मचारियों को स्वच्छता एप के बारे में जानकारी दी गई। तीनों कार्यक्रमों में ८०० से अधिक कर्मचारियों ने भाग लिया। अब कर्मचारी शहरवासियों को मोबाइल के माध्यम से कचरा न उठने से लेकर अन्य सफाई संबंधी शिकायतों के बारे में बताएंगे। हालांकि आचार संहिता की वजह से अधिकारी फील्ड में जाकर कार्रवाई करने से बच रहे हैं।

मोबाइल एप की नोडल अधिकारी शिप्रा शर्मा ने बताया कि सफाई कर्मचारियों को इस एप के बारे में बता रहे हैं और शहरवासियों के इस एप से जुडऩे के बाद जनता से फीडबैक मिलना शुरू हो जाएगा।

 

इस पर भी फोकस
घर-घर कचरा संग्रहण अब तक अगल-अलग शुरू नहीं हो पाया है, लेकिन निगम अधिकारियों का दावा है कि इस बार से इसको अलग-अलग कर दिया जाएगा। इसके लिए शहरवासियों को भी जागरुक किया जाएगा कि वे घर पर दो डस्टबिन रखें और हूपर में भी अलग-अलग कचरा डालें।

ऐसे करें डाउनलोड
यदि आप भी गंदगी से परेशान हैं तो अपने प्लेस्टोर में जाकर स्वच्छता ऐप को डाउनलोड करें और उसके बाद इसका उपयोग शुरू करें। इसमें शिकायत के साथ फोटो भी अपलोड कर सकते हैं। शहर के कई हिस्सों से लोग इस ऐप के माध्यम से शिकायतें भेज भी रहे हैं। हालांकि उनका निस्तारण धीमी गति से हो रहा है।

Ashwani Kumar Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned