बस ऑपरेटर्स का विरोध, प्रदेश में 30 हजार बसों का संचालन रहेगा बंद

- गाइड लाइन में सोशल डिस्टेंसिंग की अवहेलना होने का आरोप, छह महीने तक बसों के टैक्स माफी की मांग

By: Jaya Gupta

Published: 31 May 2020, 08:56 PM IST

जयपुर। राज्य सरकार की ओर से रविवार को जारी की गई गाइडलाइन में सोमवार से बसों के संचालन के लिए अनुमति दी गई है। लेकिन राजस्थान बस ऑपरेटर एसोसिएशन ने बसों का संचालन नहीं करने का ऐलान किया है। ऐसे में प्रदेश में 30 हजार बसों का संचालन बंद रहेगा। एसोसिएशन का आरोप है कि जारी की गई गाइडलाइन में सोशल डिस्टेंसिंग की अवहेलना की गई है। वही एक्ट में प्रावधान होने के बाद भी बसों का टैक्स माफ नहीं किया गया है। एसोसिएशन ने आगामी 6 महीने तक बसों के टैक्स माफी की मांग की है। प्रदेश में 30 हजार बसों का संचालन बंद रहेगा।
राजस्थान बस ऑपरेटर एसोसिएशन के अध्यक्ष अनिल कुमार जैन ने बताया कि केंद्र की गाइडलाइन के अनुसार यात्री वाहनों में 50 फ़ीसदी यात्री ही बैठ सकते हैं। लेकिन राज्य सरकार की ओर से जारी गाइड लाइन में सीटों की संख्या के हिसाब से ही यात्री बैठाने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा एक्ट में प्रावधान होने के बाद भी परिवहन विभाग ने बसों के टैक्स को माफ नहीं किया। ऐसे में टैक्स माफी नहीं होने तक बसों का संचालन नहीं किया जाएगा।

Jaya Gupta Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned