देश तुष्टिकरण के रास्ते पर ले जाना चाहते हैं विपक्षी

केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने नागरिकता संशोधन कानून का विरोध करने वाले विपक्षी दलों पर देश को तुष्टिकरण के रास्ते पर ले जाना का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस, कम्युनिस्ट पार्टी, सपा, बसपा, टीएमसी और आप आदि एकत्र होकर देश को तुष्टिकरण के रास्ते पर ले जाना चाहते हैं। इसी लिए ये नागरिकता संशोधन कानून का विरोध कर रहे हैं।

By: Prakash Kumawat

Updated: 03 Jan 2020, 09:27 PM IST

जयपुर
केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने नागरिकता संशोधन कानून का विरोध करने वाले विपक्षी दलों पर देश को तुष्टिकरण के रास्ते पर ले जाना का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस, कम्युनिस्ट पार्टी, सपा, बसपा, टीएमसी और आप आदि एकत्र होकर देश को तुष्टिकरण के रास्ते पर ले जाना चाहते हैं। इसी लिए ये नागरिकता संशोधन कानून का विरोध कर रहे हैं।
शाह ने जोधपुर में नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में आयोजित रैली में कहा कि हम क्यों इस विषय को लेकर जनता के बीच जा रहे हैं। क्या जरूरत पड़ी है यह बताना चाहता हूं। उन्होंने कहा कि ये विपक्षी दल जिनको आदत पड़ गई है वोट बैंक की राजनीति करने की, उन्होंने इस कानून का इसका दुष्प्रचार शुरू किया है। जिससे कई युवा गुमराह हुए हैं। कानून के खिलाफ जब प्रदर्शन हुए तब भाजपा ने तय किया कि यह लोकतंत्र हैं, चार अपने स्वार्थ के लिए भारता माता, उसके सपूतों और शरणार्थियों के खिलाफ जाते हैं तो हम भी जनता के पास जा रहे हैं। इस नागरिकता कानून के लिए हम देश की जनता के सामने हमारा पक्ष लेकर जा रहे हैं।
शाह ने यह भी स्पष्ट किया कि नागरिकता कानून (CAA) पर सरकार एक इंच भी पीछे नहीं हटेगी। उन्होंने राहुल गांधी पर हमला बोलते हुए कहा कि अगर राहुल ने कानून पढ़ा है तो वह उनसे बहस कर सकते हैं। अगर नहीं पढ़ा है तो उन्हें इटली भाषा में इसका ट्रांसलेशन भेजने के लिए तैयार हूं। शाह यहीं नहीं रूके, उन्होंने विपक्षी दलों के नेताओं को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि कांग्रेस, ममता दीदी, एसपी, बीएसपी, केजरीवाल एंड कंपनी सभी इस कानून का विरोध कर रहे हैं, इन सभी को मैं चुनौती देता हूं कि वो साबित करें इससे किसी अल्पसंख्यक को नुकसान होगा। शाह ने विरोधियों को चेताया कि जितना भी भ्रम फैलाना है, फैला लें लेकिन बीजेपी इस कानून पर एक इंच भी पीछे नहीं हटेगी। हम लोगों के पास, अल्पसंख्यकों के पास जाएंगे। उन्होंने कांग्रेस से सवाल किया कि धर्म के आधार पर देश का बंटवारा किसने किया, फिर कहा कि कांग्रेस ने ही किया था धर्म के आधार पर देश का बंटवारा।
शाह ने कहा कि 9 साले में देश में जो बड़ी समस्याएं लंबित थी, मोदी ने आठ महीने में उन्हें समाप्त करके देश के आगे बढ़ने का रास्ता साफ कर दिया है। कोई नहीं मानता था कि धारा 370 हटेगी, तीन तलाक कानून बनेगा, शरणार्थियों को नागरिकता मिलेगी, राममंदिर का मार्ग प्रशस्त होगा, सेना को सीडीएस मिलेगा जिससे पाक को माकूल जवाब दिया जाएगा। यह सब मोदी ने कर दिखाया। अब विपक्ष लोगों को सीएए पर गुमराह करने का अभियान चला रखा है। इसलिए देश की जनता को लामबंद करके सभी कार्यकर्ता व युवा अपनी शक्ति का परिचय दें। उन्होंने रैली में आए लोगों से दोनों हाथ उठाकर विपक्ष के भ्रामक प्रचार का जवाब देने का संकल्प कराया।

Amit Shah CAA pm modi
Prakash Kumawat
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned