कानून व्यवस्था के मामले पर सरकार को सदन में घेरेगा विपक्ष

नागौर और बाड़मेर के मांमले को लेकर विपक्ष ने बनाई रणनीति

जयपुर। नागौर के करनु गांव में दलित युवकों और बाड़मेर में एक अल्पसंख्यक वर्ग के युवक के साथ अमानवीय बर्ताव के मामले में विपक्ष अब सरकार घेरने की तैयारी में है। विपक्ष कानून व्यवस्था के मामले को सरकार को सदन में घेरेगा।

विपक्षी नेताओं का कहना है कि कानून व्यवस्था के मामले में पूरी तरह फेल साबित हुई है और इसलिए विपक्ष सदन में मुख्यमंत्री से इस्तीफे की मांग करेगा। सोमवार को सदन में विपक्ष इस मामले को उठाएगा। इसे लेकर भाजपा ने रणनीति भी तैयार की है और अपने विधायकों को मुखर होकर इस मामले में सरकार को घेरने के निर्देश दिए हैं। वहीं राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी भी इस मामले को लेकर मुखर हैं।


वहीं बाड़मेर में एक अल्पसंख्यक वर्ग के युवक के साथ भी इसी तरह का बर्ताव किए जाने से भी सरकार में हड़कंप मचा हुआ है। कई मुस्लिम संगठन भी इसके विरोध में हैं और कांग्रेस के अल्पसंख्यक विधायकों से इस मामले को सदन में उठाने का दबाव बना रहे रहे हैं। बताया जाता है कि अल्पसंख्यक मामलात मंत्री सालेह मोहम्मद और शिव विधायक अमीन खां पीड़ित युवक से मुलाकात करने आज उसके गांव पहुंचेंगे।


सत्ता पक्ष ने भी बनाई जवाबी रणनीति
वहीं विपक्ष की ओर इन मामलों को सदन में उठाने के संकेत के बाद सत्ता पक्ष भी विपक्ष के आरोपों का जवाब देने की रणनीति पर काम रही है। पूर्ववर्ती सरकार के समय दलितों और अल्पसंख्यकों के साथ हुई घटनाओं को सिलसिलेवार जवाब देने का जिम्मा संसदीय कई विधायकों को दिया गया है।

गौतरलब है कि गुरूवार को बजट पेश होने के बाद सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई थी। माना जा रहा है कि सोमवार को इस मामले में सदन में जमकर हंगामा होने के आसार हैं।

firoz shaifi Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned