फिर अटका अंगदान का शिलान्यास, केन्द्र ने फिर टाला कार्यक्रम

फिर अटका अंगदान का शिलान्यास, केन्द्र ने फिर टाला कार्यक्रम

Vikas Jain | Publish: Sep, 08 2018 12:07:08 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India


सवाई मानसिंह मेडिकल कॉलेज के अधीन बनना है 200 करोड की लागत से संस्थान

 

जयपुर। सवाई मानसिंह अस्पताल के सामने दो बडे सरकारी आवासों की जगह पर बनाए जाने वाला अंगदान संस्थान की आधारशिला रखे जाने का आधिकारिक कार्यक्रम एक बार फिर टाल दिया गया है। पहले यह कार्यक्रम 3 सितंबर को होना था। जिसके लिए केन्द्र से मंजूरी भी मिल गई थी। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री की ओर से इसका समय भी दिया जा चुका था। लेकिन हाल ही में एसएमएस मेडिकल कालेज प्रशासन को केन्द्र से इस आशय का पत्र प्राप्त हुआ है। जिसमे फिलहाल यहां शिलान्यास के कार्यक्रम को स्थगित किया गया है। वहीं अब कॉलेज प्रशासन ने यहां खुदाई व बेसमेंट का काम शुरू करवा दिया है। लेकिन कॉलेज प्रशासन चाहता है कि निर्माण की विधिवत शुरूआत शिलान्यास के बाद ही की जाए।

यह भवन अब सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल व अंगदान संस्थान के रूप में होगा। हालांकि इसकी घोषणा अंगदान संस्थान के रूप में की गई थी। लेकिन यहां अंगदान की कुछ प्रक्रियाओं के साथ एक संपूर्ण अस्पताल की तरह की सुविधाएं होंगी। दस मंजिल का बनने वाला यह भवन प्रदेश का पहला सरकारी अस्पताल होगा, जो इतनी मंजिलों का होगा। गौरतलब है कि संस्थान के लिए करीब 200 करोड रूपए की राशि ाखर्च की जाएगी। शुरूआत में इस भवन में नेफ्रोलोजी, यूरोलोजी और गेस्ट्रोएंट्रोलोजी से जुड़े विभाग शुरू होने की संभावना है।


सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल के रूप में होगा अंगदान संस्थान


अंगदान संस्थान अब सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल के रूप में होगा। हालांकि इसकी घोषणा अंगदान संस्थान के रूप में की गई थी। लेकिन यहां अंगदान की कुछ प्रक्रियाओं के साथ एक संपूर्ण अस्पताल की तरह की सुविधाएं होंगी। दस मंजिल का बनने वाला यह भवन प्रदेश का पहला सरकारी अस्पताल होगा, जो इतनी मंजिलों का होगा।
----

केन्द्रीय स्वास्थ्य ंमंत्रालय ने 3 सितंबर के लिए इसकी आधारशिला का का प्रस्ताव पहले मांगा था। लेकिन अब केन्द्र से पत्र प्राप्त हुआ है, जिसमे इसे स्थगित किया गया है।

डॉ यू एस अग्रवाल, प्राचार्य एवं नियंत्रक, एसएमएस मेडिकल कॉलेज

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned