केबीसी में चयन का झांसा देकर फांस रहा पाकिस्तान

पाकिस्तान (Pakistan) के नम्बर से कॉल कर ऑनलाइन ठगी (Cheating online) करने वाले गिरोह (gang) ने नया तरीका इजाद कर लिया है। अब सीधा कॉल नहीं कर वे वॉट्सएप पर वॉइस कॉल (Voice call on whatsapp) कर रहे हैं।

vinod saini

November, 2701:05 AM

- बदल दिया ठगी का तरीका, अब कर रहे वॉट्सएप पर वॉइस कॉल

-पुलिस की अपील- ऐसे कॉल रिजेक्ट करने के साथ करें ब्लॉक

रायपुर मारवाड़ (पाली)। पाकिस्तान (Pakistan) के नम्बर से कॉल कर ऑनलाइन ठगी (Cheating online) करने वाले गिरोह (gang) ने नया तरीका इजाद कर लिया है। अब सीधा कॉल नहीं कर वे वॉट्सएप पर वॉइस कॉल (Voice call on whatsapp) कर रहे हैं। ठगी के इस तरीके से बचने के लिए पुलिस ने आमजन से अपील की है कि लोग ऐसे कॉल को अटेंड करने की बजाय रिजेक्ट कर दें। उस नम्बर को वॉट्सएप पर ब्लॉक कर दें। साथ ही वॉट्सएप पर यह गिरोह मैसेज कर लिंक भी भेज रहे है, जिसे खोले बगैर डिलीट कर दें। ऐसे मैसेज को ओपन करने से आपके मोबाइल का सारा डेटा गिरोह द्वारा कॉपी कर उसका गलत उपयोग किया जा सकता है।

मारवाड़ के लोग निशाने पर
मारवाड़-गोडवाड़ के कई गांवों के एक दर्जन लोगों के मोबाइल पर मंगलवार सुबह 92 नंबर से वॉट्सएप कॉल आई। कॉल करने वालों ने खुद को केबीसी ग्रुप से जुड़ा बता कर मोबाइल नंबर केबीसी चयन टीम द्वारा सलेक्ट करने की बात कही। युवक ने केबीसी के जरिए करोड़पति बनने के लिए कुछ शर्तें रखी। इस कम्पीटिशन में हिस्सा लेने के लिए 50 हजार रुपए की राशि अकाउंट नम्बर में जमा कराने की बात कही, जबकि केबीसी में चयन प्रक्रिया अलग है। इस तरह मोबाइल नम्बर का चयन कर किसी को भी कम्पीटिशन में शामिल नहीं किया जाता।

यकीन किया तो होगा बड़ा नुकसान

पत्रिका ने इस तरह के कॉल के बारे में पड़ताल की। इसमें सामने आया कि 92 पाकिस्तान का ही कोड है। यह कॉल ऑनलाइन ठगी करने वाले गिरोह द्वारा ही किया जा रहा है। ऐसे कॉल को अटेंड करने की बजाय रिजेक्ट कर ब्लॉक करने से ही आप ठगी से बच सकते हैं।
अलर्ट रहने की जरूरत

यह ऑनलाइन ठगी करने वाले गिरोह की हरकत हो सकती है। पाकिस्तान नंबर से आने वाले वॉट्सएप वॉइस कॉल अटेंड नहीं करें। ऐसे कॉल को रिजेक्ट कर उसे वॉट्सएप पर ही ब्लॉक कर दें। वॉट्सएप पर किसी तरह का लिंक मैसेज आए तो उसे ओपन नहीं करें। फे क कॉल से आमजन को सावधान रहने की जरूरत है।
आनन्द शर्मा, पुलिस अधीक्षक, पाली

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned