मादा पैंथर की दहशत, रात में शिकार किया और चली गई वापस जंगल

मादा पैंथर की दहशत, रात में शिकार किया और चली गई वापस जंगल

Rajesh | Publish: Mar, 14 2018 08:13:50 PM (IST) | Updated: Mar, 14 2018 08:20:38 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

मादा पैंथर रात 9 बजे झालाना जंगल से खो नागोरियान के जिलड़ा की ढाणी के गेहूं के खेत में आ गई..

जयपुर।

पैथरों का अपनी टेरेटरी से निकलकर शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में जाना अब आम हो गया है। मंगलवार को भी एक मादा पैंथर रात 9 बजे झालाना जंगल से खो नागोरियान के जिलड़ा की ढाणी के गेहूं के खेत में आ गई। पैंथर रात 12 बजे तक वहीं रूकी और वापस जंगल में चली गई।

 

ग्रामीणों का कहना है कि...
झालाना वन क्षेत्र में हालांकि पैंथरों के लिए भोजन की उपलब्धता है, इसके बावजूद वे जंगल से बाहर आ रहे हैं। ग्रामीणों का कहना है कि जंगल से लगता हुआ नाला है। यहां पैंथर अक्सर आता रहता है अपना भोजन करके वापस इसी रास्ते से चला जाता है।

 

ईजी फूड विभागीय अधिकारियों की मानें, तो...
आज तक किसी को नुकसान नहीं पहुंचाया है। घर में भी नहीं घुसा है। मिलना चाहिए ईजी फूड विभागीय अधिकारियों की मानें, तो जानवरों का घूमने का स्वभाव होता है, इसलिए कई बार घूमते हुए वह जंगल से बाहर आ जाता है।

 

रात 2 बजे फिर आई मादा पैंथर...
उधर वाइल्डलाइफ से जुड़े लोगों का कहना है कि यदि जंगल में पैंथर के लिए ईजी फूड मिलने लगे तो पैंथर जंगल से बाहर नहीं जाएंगे। मादा पैंथर के 12 बजे वापस जाने के बाद रात 2 बजे फिर से उसी स्थान पर आईं और एक श्वान का शिकार किया।

 

12 बजे के बाद जंगल वापस चली गई...
काफी देर खेत में रूकने के बाद वापस चली गई। वर्जन जानवर का स्वभाव होता है वह घूमते समय टेरेटरी से कई बार बाहर भी आ जाते हैं। रात 9 बजे सूचना मिली। उसके बाद सर्च किया। काफी देर देखने के बाद मालूम चला वह 12 बजे के बाद जंगल वापस चली गई।

READ: राजस्थान में यहां रहती है 'हिलेरी क्लिंटन' की 'ननद', हर साल यहां से जाती है उनके लिए रक्षाबंधन पर राखी!

READ : आठवीं और दसवीं बोर्ड की परीक्षाएं कल से, इन बातों का रखेंगे ध्यान तो मेरिट में होगा नाम

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned