scriptPaper leak case will be discussed in Gehlot cabinet meeting | गहलोत कैबिनेट की बैठक आज, पानी-बिजली व पेपर लीक प्रकरणों पर होगा मंथन | Patrika News

गहलोत कैबिनेट की बैठक आज, पानी-बिजली व पेपर लीक प्रकरणों पर होगा मंथन

-शाम 5 बजे कैबिनेट और शाम 5:30 बजे मंत्रिपरिषद की होगी बैठक, कोरोना काल के बाद पहली बार मुख्यमंत्री कार्यालय में होगी मंत्रिपरिषद की बैठक, प्रभार वाले जिलों की रिपोर्ट भी सीएम को सौंपेंगे मंत्री

जयपुर

Updated: May 18, 2022 12:16:51 pm

जयपुर। प्रदेश में कांस्टेबल भर्ती परीक्षा का पेपर लीक होने के बाद अब इस मामले में सरकार भी अलर्ट मोड पर आ गई है। पेपर लीक मामले सहित कई मुद्दों पर चर्चा के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज मंत्रिपरिषद की बैठक बुलाई है।

ashok gehlot
ashok gehlot

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में शाम 5 बजे कैबिनेट और शाम 5:30 बजे मंत्रिपरिषद की बैठक होगी। हालांकि बैठक का अभी तक कोई आधिकारिक एजेंडा जारी नहीं हुआ है लेकिन माना जा रहा है कि प्रदेश में कांस्टेबल भर्ती परीक्षा पेपर लीक प्रकरण ही मंत्रिपरिषद की बैठक का मुख्य मुद्दा होगा।

हालांकि बताया ये भी जा रहा है कि करीब आधा दर्जन विभागों के प्रस्तावों को लेकर भी मंत्रिपरिषद की बैठक में चर्चा होनी है, जिसमें पीएचडी, स्वास्थ्य, ग्रामीण पंचायती राज, कृषि और ऊर्जा विभाग के प्रस्तावों पर बैठक में अनुमोदन होगा।


पेपर लीक प्रकरण पर चर्चा की एक वजह यह भी
सूत्रों की माने तो बैठक में कांस्टेबल भर्ती परीक्षा पेपर लीक प्रकरण पर चर्चा की एक वजह यह भी है कि सरकार रीट पेपर लीक मामले के बाद नकल रोकने और पेपर लीक प्रकरण को लेकर विधानसभा में कानून भी लेकर आई थी लेकिन बावजूद उसके कांस्टेबल भर्ती परीक्षा का पेपर भी लीक हो गया और सरकार को परीक्षा रद्द करनी पड़ी। ऐसे में माना जा रहा है कि आज पेपर लीक प्रकरण को लेकर सरकार कोई बड़े कदम उठाने का फैसला ले सकती है।

पानी बिजली पर भी चर्चा संभव
मंत्रिपरिषद की बैठक में पानी और बिजली को लेकर भी मंथन होना है। प्रदेश में तेज गर्मी पड़ने के साथ ही पानी और बिजली की मांग में लगातार इजाफा हो रहा है। हालांकि कई जगह सरकार को विद्युत विद्युत कटौती भी करनी पड़ रही है लगातार कोयले की कमी के चलते भी विद्युत आपूर्ति में बाधा उत्पन्न हो रही है। ऐसे में किस प्रकार से विद्युत आपूर्ति को सुचारू किया जाए और पानी की समस्या को भी दूर किया जाए इसको लेकर भी बैठक में चिंतन-मंथन होना है।

जिलों की रिपोर्ट सौंपेंगे मंत्री
इधर 13 मई को अपने-अपने प्रभार वाले जिलों पर गए प्रभारी मंत्री फ्लैगशिप योजनाओं और बजट घोषणाओं को लेकर की गई मॉनिटरिंग की रिपोर्ट मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को बैठक में सौंपेंगे। सीएम गहलोत ने तमाम मंत्रियों को निर्देश दिए थे कि वह अपने दिलों में जाकर फ्लैगशिप योजना और बजट घोषणाओं के क्रियान्वयन को लेकर फीडबैक बैठक लें और उसकी रिपोर्ट बनाकर सौंपे।

कोरोना काल के बाद पहली बार सीएमओ में बैठक
वहीं कोरोना काल के बाद यह पहला मौका है जब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मंत्रिपरिषद की बैठक मुख्यमंत्री कार्यालय में बुलाई है। इससे पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कैबिनेट और मंत्रिपरिषद की बैठक मुख्यमंत्री आवास में ही लेते आए हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उलटफेर: एकनाथ शिंदे ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी सीएमMaharashtra Politics: बीजेपी ने मौका मिलने के बावजूद एकनाथ शिंदे को क्यों बनाया सीएम? फडणवीस को सत्ता से दूर रखने की वजह कहीं ये तो नहीं!भारत के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड को मिला नया कप्तान, दिग्गज को मिली बड़ी जिम्मेदारीउदयपुर कन्हैयालाल हत्याकांडः कानपुर से आतंकी कनेक्शन, एनआईए की टीम जल्द जा कर करेगी छानबीनAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शरद पवार ने किया बड़ा दावा- फडणवीस डिप्टी सीएम बनकर नहीं थे खुश, लेकिन RSS से होने के नाते आदेश मानाUdaipur Murder: आरोपियों को लेकर एनआईए ने किया बड़ा खुलासा, बढ़ी राजस्थान पुलिस की मुश्किल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.