फीस वसूली के विरोध में अभिभावक हुए लामबंद


नो स्कूल, नो फीस के तहत किया पुतला दहन

By: Rakhi Hajela

Updated: 17 Oct 2020, 08:41 PM IST

फीस वसूली के विरोध में अभिभावक हुए लामबंद
नो स्कूल, नो फीस के तहत किया पुतला दहन
जौहरी बाजार में एकत्र हुए अभिभावक
किया रैली निकालने का प्रयास
मौके पर पहुंची पुलिस ने की समझाइश
रैली निकालने से रोका
अल्बर्ट हॉल पर शिक्षा माफियाओं का जलाया पुतला
फीस वसूली के विरोध में अभिभावक हुए लामबंद
नो स्कूलए नो फीस के तहत किया पुतला दहन
जौहरी बाजार में एकत्र हुए अभिभावक
किया रैली निकालने का प्रयास
मौके पर पहुंची पुलिस ने की समझाइश
रैली निकालने से रोका
अल्बर्ट हॉल पर शिक्षा माफियाओं का जलाया पुतला
निजी स्कूलों की ओर से मांगी जा रही फीस वसूली के विरोध में आज एक बार फिर अभिभावक लामबंद हुए। संयुक्त अभिभावक समिति की ओर से चलाए जा रहे नो स्कूल नो फीस कैम्पेन के तहत आज अभिभावकों ने पुतला दहन किया। इससे पूर्व अभिभावक जौहरी बाजार में एकत्र हुए। उनका कार्यक्रम जौहरी बाजार से बड़ी चौपड़ तक रैली निकालने का था, जैसे ही रैली शुरू हुई उस दौरान माणक चौक एसएचओ जितेंद्र सिंह सहित आरएएस राजवीर सिंह भी मौके पर पहुंचे और काफी देर तक अभिभावकों बहस और समझाइश हुई किन्तु प्रदर्शन नहीं करने दिया। उसके बाद अभिभावकों ने अल्बर्ट हाल पर अपना विरोध प्रदर्शन किया और राज्य सरकार का पुतला फूंका।
जानकारी के मुताबिक रैली निकालने की अनुमति नहीं होने के कारण मौके पर पहुंची पुलिस ने अभिभावकों की समझाइश कर उन्हें रैली निकालने से रोका। इसके बाद अभिभावकों ने अल्बर्ट हॉल के बाहर शिक्षा के मंदिरों के नाम पर व्यापार कर रहे माफियाओं की अंतिम यात्रा निकालने के साथ उसका पुतला दहन किया। उनका कहना था कि निजी स्कूल अभिभावकों को प्रताडि़त कर रहे हैं।
समिति प्रवक्ता अभिषेक जैन बिट्टू ने बताया कि अभिभावक पिछले छह महीनों से सड़कों पर उतरकर राहत मांग रहे हैं, भीख मांग रहे हैं, यहां तक कि मुख्यमंत्री, शिक्षा मंत्री तक को ज्ञापन दे चुके हैं यही नहीं निजी स्कूल संचालकों तक कि ठोकर खा ली उसके बावजूद ना सरकार सुन रही है ना स्कूल संचालक सुन रहे हैं। ऐसे में अभिभावक जाएं तो जाए कहा, राजस्थान हाईकोर्ट ने भी सरकार से पूछा, स्कूलों से पूछा लेकिन कोई जबान नहीं उसके बावजूद आज अगर अभिभावक सड़कों पर उतरकर अपनी बात रखना चाहता है तो भी उनको बात रखने नहीं दी जा रही है। प्रदर्शन के दौरान शहर के 40 से अधिक स्कूलों के अभिभावकों से सहित मनोज जेसवानी, युवराज हसीजा,सर्वेश मिश्रा, चंद्रमोहन गुप्ता, एडवोकेट अमित छंगाणी, विकास अग्रवाल, आशीष अग्रवाल, डॉ. आयुषी शर्मा, पुनीत शर्मा, सुनील गुप्ता, कमलेश गोधवानी, हरिदत्त शर्मा सहित बड़ी संख्या में अभिभावक जुटे।

Rakhi Hajela Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned