विमान में बैठे यात्रियों के कान-नाक से बहने लगा खून

जेट एयरवेज की मुंबई-जयपुर उड़ान का मामला
एयर प्रेशर कंट्रोलर स्विच दबाना भूले क्रू मेंबर, 166 यात्रियों की जान पर बन आई

September, 2101:00 AM

जयपुर. जेट एयरवेज की मुंबई-जयपुर उड़ान में गुरुवार सुबह उड़ान शुरू होने के महज 20 मिनट बाद ही 166 यात्रियों की जान पर बन आई। करीब 30 यात्रियों के कान और नाक से खून बहने लगा तथा कुछ यात्रियों को सुनने में भी परेशानी महसूस हुई। इससे विमान में हड़कंप मच गया। विमान की मुंबई में ही इमरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी। यात्रियों का मुंबई एयरपोर्ट पर ही उपचार करवाया गया। घटना में चालक दल सदस्य (क्रू मेंबर्स) की लापरवाही सामने आई है। जानकारी के अनुसार क्रू मेंबर्स विमान में एयर प्रेशर को कंट्रोल करने वाला स्विच (ब्लीड स्विच) दबाना ही भूल गए। इस मामले पर संज्ञान लेते हुए नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने नागरिक उड्डयन निदेशालय (डीजीसीए) को तुरंत रिपोर्ट दाखिल करने के निर्देश दिए हैं। जानकारी के अनुसार जांच पूरी होने तक विमान के पायलटों को ड्यूटी से हटा दिया गया है।
यों हुआ घटनाक्रम
जेट एयरवेज के विमान ने सुबह मुंबई एयरपोर्ट से जयपुर के उड़ान भरी। विमान में 5 क्रू मेंबर मौजूद थे। उड़ान के कुछ समय बाद 30 यात्रियों के कान और नाक से खून बहने लगा तथा कुछ यात्रियों को सुनने में भी परेशानी महसूस हुई। उन्हें मुंबई के नानावाटी अस्पताल में भती्र करवाया गया। जानकारी के अनुसार उड़ान भरते समय चालक दल के सदस्य 'ब्लीड स्विचÓ सलेक्ट करना भूल गए। इसकी वजह से केबिन प्रेशर सामान्य नहीं रखा जा सका और ऑक्सीजन मॉस्क नीचे आ गए। केबिन प्रेशर में कमी आने के कारण विमान की मुंबई में इमरजेंसी लैंडिंग करवानी पड़ी।
यात्रियों में दहशत
विमान जयपुर के कई यात्री सवार थे। घटना से विमान में दहशत फैल गई। घटना की जानकारी जैसे ही शहर में फैली यात्रियों के रिश्तेदार भी दहशत में आ गए। घटना से जेट एयरवेज प्रबंधन मे हडकंप मच गया। यात्रियों को उपचार के बाद मुंबई से जयपुर के लिए रवाना किया गया। यात्रियों ने बताया कि हवाई यात्रा इतनी भयावह भी हो सकती है, इसकी कल्पना भी उन्होंने नहीं की थी।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned