सामाजिक दूरी का ध्यान रख मनाएं ईद-उल-अजहा का पर्व, साफ-सफाई का रखें विशेष ध्यान

ईद-उल-अजहा का पर्व शनिवार को मनाया जाएगा। शहर में पर्व की रौनक देखते ही बन रही है। कुर्बानी के लिहाज से खास इस दिन के मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों में बकरों की खरीद फरोख्त की जा रही है।

By: kamlesh

Published: 31 Jul 2020, 07:42 PM IST

जयपुर। ईद-उल-अजहा का पर्व शनिवार को मनाया जाएगा। शहर में पर्व की रौनक देखते ही बन रही है। कुर्बानी के लिहाज से खास इस दिन के मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों में बकरों की खरीद फरोख्त की जा रही है। कोरोना संक्रमण के चलते ईदगाह पर लगने वाली शहर की सबसे बड़ी बकरा मंडी इस बार नहीं लगाई गई है। मस्जिदों और दरगाहों में सामूहिक नमाज अदा नहीं की जाएगी। इससे पूर्व चारदीवारी के बाजारों में समाजजनों की पर्व की खरीददारी को लेकर भीड़ देखने को मिली।

चांदपोल बाजार के धड़ा मार्केट सहित हल्दियों के रास्ता, रामगंज बाजार सहित अन्य जगहों पर कपड़ों और अन्य सामानों की दुकानों पर आवाजाही नजर आई। जामा मस्जिद के मुफ्ती सैयद अमजद अली ने बताया कि सूर्य निकलने के 20 मिनट बाद दोपहर 12 बजे तक नमाज पढ़ सकते हैं।

ईद उल अजहा की नमाज जल्दी पढ़ना जरूरी है। कुर्बानी के दिन 10, 11, 12 जिलहिज्ज हैं लेकिन पहला दिन ज्यादा अफजल है। पांचों वक्त की नमाज, चारों वक्त की नवाफिल, तिलावत, जिक्र, दुरुद शरीफ का एहतमाम किया जाए। मोहल्ले के सभी जिम्मेदार बड़े जानवरों की कुर्बानी के समय साफ सफाई का विशेष ध्यान रखें। ताकि किसी को परेशानी न हो।
— मुफ्ती सैय्यद अमजद अली, जौहरी बाजार जामा मस्जिद

भाईचारा और अमन के साथ ईद उल अजहा का पर्व मनाए। जरूरतमंदों की ज्यादा से ज्यादा मदद करें। संकट काल में सामाजिक दूरी रखें। सरकारी दिशा निर्देशों का पालन करें। इससे कोरोना से निश्चित ही जीत पाएंगे। इब्राहिम अले.के जीवन के विभिन्न पहलुओं को जानकर उनको अपनाने से दुनिया की सारी परेशानियों से निजात मिल सकती है।
—हबीब गारनेट, अध्यक्ष मौलाना आजाद फाउंडेशन

आपसी सौहार्द के साथ ईद उल अजहा और रक्षाबंधन का पर्व मनाएं। साथ ही सामाजिक दूरी का विशेष ध्यान रखें। भीड़भाड़ वाली जगहों पर जाने से बचें। जल्द हम सब कोरोना से जीत पाएंगे।
—इकबाल खान, समाजसेवी

सामाजिक दूरी की पालना करें, घरों से बेवजह बाहर न निकलें। आपसी भाईचारे के साथ पर्व मनाएं। जिस तरह ईद उल फितर का पर्व मनाया गया है उसी तर्ज पर जरूरी दिशानिर्देशों के साथ यह पर्व मनाना है। साफ सफाई का विशेष ध्यान रखें।
—डॉ.सैय्यद हबीबुर्रहमान नियाजी, सज्जादानशीन, दरगाह हज़रत सैय्यद मीर क़ुर्बान अली


— अल्पसंख्यक मामलात विभाग मंत्री सालेह मोहम्मद ने ईद उल अजहा की प्रदेशवासियों को मुबारकबाद दी है। इस दौरान मंत्री ने कहा कि कोरोना काल में रमजान, ईद—उल—अजहा पूरे दिशानिर्देशों के साथ मनाई है। इसी तरह यह ईद भी सादगी के साथ मनाए। सरकारी दिशानिर्देशों की पालना कर नमाज घरों से ही अदा करें। सामाजिक दूरी, मास्क लगाने का विशेष ध्यान रखें। इसके साथ ही खुदा से दुआ करेंगे कि मानव जाति पर आए इस संकट से पूरी दुनिया को निजात मिल सके।

— राजस्थान बोर्ड आफ मुस्लिम वक्फस के अध्यक्ष डॉ.खानू खान बुधवाली ने प्रदेशवासियों को ईद उल अजहा के पर्व की दी मुबारकबाद दी। बुधवाली ने समाजजनों से पहले के पर्वों की तर्ज पर ही घरों से नमाज अदा करने, सामाजिक दूरी का ध्यान रखने और जरूरतमंदों की मदद करने के साथ पर्व को मनाने की अपील की। गंगा जमुनी तहजीब को सभी बनाए रखने की कोशिश करें।

—आल इंडिया उलेमा एंड मशाइख बोर्ड ने भी आम रास्तों और खुले में कुर्बानी न करने की अपील समाजबंधुओं से की है। कुर्बानी के गोश्त को गरीबों को पहुंचाने का इंतजाम करने और सरकारी दिशा निर्देशों की पालना के साथ पर्व को मनाने की अपील की है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned