पेंशन चाहिए तो तय करो 50 किमी की दूरी

पेंशन चाहिए तो तय करो 50 किमी की दूरी

Harshwardhan Singh Bhati | Updated: 22 Mar 2016, 02:26:00 AM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

राज्य व केन्द्र सरकार की योजना के तहत वृद्ध, दिव्यांग और विधवा महिलाओं को पेंशन क ा भुगतान लेने के लिए कई परेशानियों से रू-ब-रू होना पड़ता है। बावड़ी कलां ग्राम पंचायत के लाभार्थियों की पेंशन राशि उनके खातों में जमा करवाने के लिए उनके खाते 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित बाप शाखा में खोल दिए गए हैं।

राज्य व केन्द्र सरकार की योजना के तहत वृद्ध, दिव्यांग और विधवा महिलाओं को पेंशन क ा भुगतान लेने के लिए कई परेशानियों से रू-ब-रू होना पड़ता है। बावड़ी कलां ग्राम पंचायत के लाभार्थियों की पेंशन राशि उनके खातों में जमा करवाने के लिए उनके खाते 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित बाप शाखा में खोल दिए गए हैं।

जिसके चलते पेंशनरों को बैंक की कागजी कार्रवाई पूरी करने के लिए लम्बी दूरी तय करनी पड़ रही है। साथ ही खातों की कागजी कार्रवाई पूर्ण नहीं होने के कारण पेंशन भी अटक गई है।

50 किमी दूरी पर कैसे पंहुचे पेंशनर-

बावड़ी कला ग्राम पंचायत के वृद्धावस्था, दिव्यांग और विधवा पेंशनर्स के लिए हाल ही में लाभार्थी के बैंक खाते में ही राशि जमा करवाने के लिए विभाग द्वारा उनके खाते पंचायत मुख्यालय से 50 किलोमीटर दूरी पर स्थित दी जोधपुर सेंन्ट्रल कॉपरेटिव बैंक शाखा- बाप में खोल दिए गए हैं। ऐसे में पेंशनरों को पेंशन की राशि लेने के लिए लम्बी दूरी तय करनी पड़ेगी।

साथ ही गरीब, वृद्ध व दिव्यांग पेंशनरों को जहां लम्बी दूरी तय करने में परेशानी होगी तथा वहीं आर्थिक नुकसान भी होगा। अब पेंशनरों की मांग है कि उनके बैंक खाते नजदीकी शहर फलोदी में ही खोले जाएं ताकि उन्हें राहत मिल सके।

441 पेंशनर है बावड़ी कलां में-
ग्राम पंचायत बावड़ी कलां में कुल 441 पेंशनर हैं, जिसमें राज्य व केन्द्र की वृद्धावस्था पेंशन योजना में 375, विधवा पेंशन योजना में 40 तथा 26 दिव्यांग शामिल है। (निसं)

इनका कहना है-
बावड़ी कलां के पेंशनरों के पेंशनरों की सुविधा को देखते हुए नए खाते अपने नजदीकी शाखा में खुलवा दें तथा प्रार्थना पत्र देकर खाता परिवर्तित किया जा सकता है।

अभिषेक भादू, प्रधान, पंचायत समिति, फलोदी


-----------------------

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned