scriptराजस्थान में भयंकर गर्मी से मरने लगे लोग, आज एसीएस लेगी हाई लेवल मीटिंग, अलर्ट मोड पर आया चिकित्सा विभाग | People started dying due to severe heat in Rajasthan, ACS will take a high level meeting today, medical department is on alert mode, | Patrika News
जयपुर

राजस्थान में भयंकर गर्मी से मरने लगे लोग, आज एसीएस लेगी हाई लेवल मीटिंग, अलर्ट मोड पर आया चिकित्सा विभाग

प्रदेश में भीषण गर्मी का दौर जारी है। जिसकी वजह से करीब दस लोगों की मौत हो चुकी है।

जयपुरMay 24, 2024 / 09:28 am

Manish Chaturvedi

जयपुर। प्रदेश में भीषण गर्मी का दौर जारी है। जिसकी वजह से करीब दस लोगों की मौत हो चुकी है। मौतों की बढ़ती संख्या को देखकर चिकित्सा विभाग अलर्ट मोड पर आ गया है। इसे लेकर एसीएस मेडिकल शुभ्रा सिंह की ओर से लगातार मॉनिटरिंग की जा रही है। इस संबंध में आज एसीएस शुभ्रा सिंह की अध्यक्षता में बैठक होगी। हीटवेव प्रबंधन को लेकर यह उच्च स्तरीय बैठक आयोजित की जाएगी। इसमें मौसमी बीमारियों, गर्मी जनित बीमारियों, अस्पतालों में पानी, बिजली की व्यवस्था, कूलर-एसी, पंखों आदि की क्रियाशीलता सहित अन्य बिंदुओं पर विस्तृत समीक्षा की जाएगी। वीसी के माध्यम से आयोजित इस बैठक में मेडिकल कॉलेजों के प्रधानाचार्य, अधीक्षक, संयुक्त निदेशक जोन, सीएमएचओ, पीएमओ, जिला शिशु स्वास्थ्य एवं प्रजनन अधिकारी, उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी, जिला कार्यक्रम प्रबंधक, समस्त खण्ड मुख्य चिकित्सा अधिकारी एवं खण्ड कार्यक्रम प्रबंधक शामिल होंगे।
हीटवेव प्रबंधन को लेकर लेगी फीडबैक..

एसीएस से इस मीटिंग में सभी जिलों में अधिकारी जुड़ेंगे। जो अपने अपने अस्पतालों में मौजूदा व्यवस्थाओं को लेकर फीडबैक देंगे। इसके साथ ही एसीएस की ओर से इस दौरान अधिकारियों को अपने जिलों में अस्पतालों में दौरा करने के निर्देश भी दिए जाएंगे। ताकी जिन अस्पतालों में कूलर, पंखे आदि की कमी मिले। वहां पर कमियां दूर की जाएं, ताकी मरीजों को परेशानी का सामना नहीं करना पड़े।
हीटवेव को लेकर कल एसएमएस गई थी एसीएस..

हीटवेव प्रबंधन को लेकर कल एसीएस शुभ्रा सिंह एसएमएस अस्पताल गई थी। जहां पर उन्होंने वहां आपातकालीन इकाई, मेडिसिन वार्ड, बांगड़ परिसर एवं चरक भवन का दौरा कर चिकित्सा व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया। जहां काफी सारी असुविधाएं देखने को मिली। आपातकालीन इकाई में डक्टिंग प्लांट बंद होने एवं अन्य स्थानों पर कूलर, पंखे और एसी खराब मिलने पर उन्होंने नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने सवाई मानसिंह मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ दीपक माहेश्वरी एवं अधीक्षक डॉ सुशील भाटी को निर्देश दिए कि अस्पताल में अतिआवश्यक प्रकृति की सेवाओं के लिए तत्काल प्रभाव से कंटीजेंसी प्लान बनाएं। दो दिन के भीतर कूलर, पंखे, एसी, वाटर कूलर आदि को ठीक करवाएंं। साथ ही अन्य व्यवस्थाओं को सात दिन में सुचारू करें।

Hindi News/ Jaipur / राजस्थान में भयंकर गर्मी से मरने लगे लोग, आज एसीएस लेगी हाई लेवल मीटिंग, अलर्ट मोड पर आया चिकित्सा विभाग

ट्रेंडिंग वीडियो