डाइजेशन को इंप्रूव करेगी पुदीने की चाय

डाइजेशन को इंप्रूव करेगी पुदीने की चाय

Archana Kumawat | Publish: Jun, 02 2018 04:04:16 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

पुदीने की चाय बनाने के लिए गर्म पानी में पुदीने की पत्तियों को उबाल लें और उसमें शहद मिलाकर पीएं

बढ़ेगी रोग-प्रतिरोधक क्षमता
पुदीने की चाय के सेवन से रोग-प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाया जा सकता है। इसमें पाई जाने वाली एंटी-बैक्टीरियल प्रॉपर्टीज बैक्टीरिया से लडऩे की ताकत देती हैं। पुदीने में विटामिन बी, पोटेशियम, एंटी ऑक्सीडेंट्स और कैल्शियम भी अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं।

तनाव दूर करे
तनाव दूर करने के लिए अरोमा थैरेपी में इस चाय का उपयोग किया जाता है। पुदीने के तेल की तरह ही पुदीने की चाय भी फायदेमंद होती है। पुदीने में एंटी इंफ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज होती हैं, जो ब्लड प्रेशर को कम करके बॉडी के तापमान को सामान्य बनाने का काम करती हैं। इस तरह बॉडी के रिलेक्स होने पर मानसिक तनाव को भी दूर किया जा सकता है।

पेट रहेगा स्वस्थ
डाइजेस्टिव एवं गेस्ट्रोइंस्टेसटाइनल समस्याओं को दूर करने के लिए पुदीने का तेल एवं पुदीने की चाय का इस्तेमाल वर्षों से हो रहा है। इसलिए यदि आपको पेट फूटना, गैस बनना, पेट में ऐंठन या फिर किसी भी तरह की पाचन संबंधी समस्या रहती है तो नियमित पुदीने की चाय का सेवन करना चाहिए। इसके अलावा डायरिया और कब्ज जैसी समस्या को दूर करने में भी पुदीने की चाय को फायदेमंद माना गया है।

वजन कम करे
इसमें पाए जाने वाले आर्गेनिक कंपाउंड्स भूख को कंट्रोल कर ओवर इटिंग को रोकने में असरदार हैं। इस तरह शरीर में अनावश्यक रूप से चर्बी एकत्रित नहीं होगी, जिससे मोटापे को कंट्रोल किया जा सकता है। इसलिए शुगर ड्रिंक की जगह एक गिलास कोल्ड या हॉट पुदीने की चाय पीएं।

सिरदर्द की समस्या
एक कप गर्म पुदीने की चाय पीने से सिरदर्द या माइग्रेन की समस्या से राहत पाई जा सकती है। यह ड्रिंक ब्रेन की मसल्स को रिलेक्स एवं शांत करने के साथ ही ब्रेन तक ब्लड सप्लाई को भी सही रखता है। इस तरह ब्रेन तक पर्याप्त ऑक्सीजन पहुंचने से दर्द में आराम मिलता है। इससे कोई साइड इफेक्ट भी नहीं होता है।

बॉडी को डिटॉक्स करेगी चाय
शरीर में से हानिकारक पदार्थों को बाहर निकालने में भी यह इस चाय का सेवन लाभकारी है। चाहें तो आप पुदीने का पानी भी पी सकते हैं, यह भी डिटॉक्सीफिकेशन का काम करता है। इसके अलावा पुदीने की कोल्ड चाय में नींबू का रस मिलाकर पीना टॉक्सिंस को बाहर निकालने का बहुत भी बेहतर उपाय है। यह लिवर फंग्शन को भी इंप्रूव करती है।

फोकस बढ़ेगा
जर्नल ऑफ न्यूरोसाइंस में प्रकाशित एक शोध के अनुसार एकाग्रता को बढ़ाने के लिए पुदीने की चाय का सेवन करना फायदेमंद होता है। पुदीना ब्रेन को रिलेक्स करके पॉजिटिव इफेक्ट डालता है। इसके अलावा मैमोरी को बूस्ट करने के लिए भी पुदीने की चाय पीना फायदेमंद है। इस तरह इस चाय के सेवन से बच्चों में मैमोरी बूस्ट की जा सकती है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned