पेट्रोल 3 पैसे और डीजल के दाम 2 पैसे चढ़े

सरकारी तेल कंपनियों (Goverment oil companies) ने शनिवार को छठे दिन पेट्रोल-डीजल (Petrol Diesel Price) के दामों में मामूली बढ़ोतरी की। पेट्रोल के दाम 3 पैसे और डीजल के दाम 2 पैसे प्रति लीटर बढ़ाए गए, जिससे राजधानी में पेट्रोल (Petrol Price) के भाव 87.60 रुपए व डीजल (Diesel Price) के दाम 82.62 रुपए प्रति लीटर पर आ गए। दिल्ली सरकार के डीजल पर वैट घटाने के फैसले के बाद अब पूरे देश में सबसे महंगा डीजल अब राजस्थान में बिक रहा है। गुरुवार को दिल्ली मंत्रिमंडल ने डीजल पर वैट 30 से घटाकर 16.75 प्रतिशत कर

By: Narendra Kumar Solanki

Updated: 01 Aug 2020, 10:49 AM IST

जयपुर। सरकारी तेल कंपनियों ने शनिवार को छठे दिन पेट्रोल-डीजल के दामों में मामूली बढ़ोतरी की। पेट्रोल के दाम 3 पैसे और डीजल के दाम 2 पैसे प्रति लीटर बढ़ाए गए, जिससे राजधानी में पेट्रोल के भाव 87.60 रुपए व डीजल के दाम 82.62 रुपए प्रति लीटर पर आ गए। दिल्ली सरकार के डीजल पर वैट घटाने के फैसले के बाद अब पूरे देश में सबसे महंगा डीजल अब राजस्थान में बिक रहा है। गुरुवार को दिल्ली मंत्रिमंडल ने डीजल पर वैट 30 से घटाकर 16.75 प्रतिशत करने का फैसला किया।
किसी-किसी शहर में मामूली बढ़ोतरी
सरकारी तेल कंपनियों ने शनिवार को दिल्ली, मुंबई, चेन्नई में तो दोनों ईंधनों की कीमतों को छोड़ दिया, लेकिन कोलकाता में डीजल प्रति लीटर एक पैसा महंगा कर दिया। नोएडा में पेट्रोल जहां 6 पैसे प्रति लीटर महंगा हुआ तो डीजल 4 पैसे। रांची में सिर्फ पेट्रोल 1 पैसा प्रति लीटर महंगा हुआ। बेंगलुरू में पेट्रोल 7 पैसे महंगा हुआ है। चंडीगढ़ में दोनों ईंधन 3-3 पैसे महंगा हुआ तो लखनऊ में पेट्रोल 6 पैसे जबकि डीजल 1 पैसा महंगा हुआ है।
पिछले महीने सिर्फ डीजल ही हुआ है महंगा
पिछले महीने देखा जाए तो सरकारी तेल कंपनियां सिर्फ डीजल का दाम ही बढ़ाया। बीते जुलाई के दौरान 10 किस्तों में जो डीजल के दाम बढ़ाए गए। उससे डीजल 1.60 रुपए प्रति लीटर महंगा हो चुका है। पेट्रोल की बात करें तो इसमें उस महीने इसकी कीमत में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई। इसके दाम में अंतिम बार बीते 29 जून को बढ़ोतरी हुई थी, वह भी महज 5 पैसे प्रति लीटर। दिल्ली में शनिवार को पेट्रोल की कीमत जहां 80.43 रुपए पर तो डीजल 73.56 रुपए पर टिकी रही।
राजस्थान में बहुत अधिक वैट
राजस्थान में डीजल पर 15.76 रुपए वैट (राजस्थान सरकार), 31.83 रुपए सेंट्रल एक्साइज (केंद्रीय सरकार) और 1.75 रुपए रोड टैक्स लगता है। राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष सुनीत बगई ने कहा कि दिल्ली सरकार की तर्ज पर राजस्थान सरकार भी वैट की दरें घटाती है, तो प्रदेश की जनता को महंगाई से राहत मिलेगी, साथ अन्य राज्यों से हो रही डीजल की तस्करी पर भी लगाम लगेगी। एक तरफ डीजल की बिक्री नहीं हो रही और दूसरी तरफ सरकार लगातार वैट बढ़ाए जा रही है, जबकि दिल्ली ने वैट की दरें घटाकर एक उदाहरण पेश किया है। पड़ोसी राज्यों के मुकाबले राजस्थान में डीजल 10 से 12 रुपए तक महंगा हो चुका है और सीमावर्ती जिलों के पेट्रोल पम्प तो बंद होने की स्थिति में आ गए है।
जानिए आपके शहर में कितना है दाम
पेट्रोल-डीजल की कीमत आप एसएमएस के जरिए जान सकते हैं। इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, आपको आरएसपी और अपने शहर का कोड लिखकर 9224992249 नंबर पर भेजना होगा। हर शहर का कोड अलग-अलग है, जो आपको आईओसीएल की वेबसाइट से मिल जाएगा।

Narendra Kumar Solanki Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned