संवेदक कर्मियों के लिए मांगे सुरक्षा उपकरण

पीएचईडी संवेदक फर्म संचालकों ने की मांग
विभाग के अभियंताओं को मिल रहा है पीपीई किट
संवेदक कर्मचारी बिना मास्क,पीपीई किट कर रहे हैं फील्ड में काम

By: anand yadav

Updated: 18 Apr 2020, 10:45 AM IST

जयपुर। कोरोना संक्रमण के भय के बीच राजधानी में अत्यावश्यक सेवाओं से जुड़े कार्मिक जी जान से जुट कर सेवाएं दे रहे हैं। लेकिन अधिकारियों और कर्मचारियों के बीच हो रहे भेदभाव को लेकर अब जलदाय विभाग की संवेदक फर्म संचालकों ने सरकार से संवेदककर्मियों के लिए भी सुरक्षा किट दिए जाने की मांग की हैं
गौरतलब है कि कोरोना वायरस संक्रमण के चलते लागू लॉक डाउन में जलदाय अधिकारी— कर्मचारियों के साथ संवेदक फर्म के कर्मचारी भी जुटे हैं। विभागीय कार्मिकों को शहर के हॉट स्पॉट इलाकों में पीपीई किट, मास्क,सैनीटाइजर आदि सुरक्षा संसाधन विभाग उपलब्ध करा रहा है। जबकि लीकेज मरम्मत व अन्य जल संसाधन कार्यों में कार्यरत संवेदककर्मियों की सुरक्षा को लेकर विभाग गंभीर नहीं है।
ऐसे में आॅल राजस्थान पीएचईडी कॉन्ट्रैक्टर यूनियन जिला जयपुर राज्य सरकार से संवेदक फर्म कर्मचारियों को सुरक्षा उपकरण अतिशीघ्र उपलब्ध कराने की मांग करता है। यूनियन अध्यक्ष सतीश चंद दाधीच ने बताया कि मानवीय आधार पर संवेदक फर्म कार्मिकों की सुरक्षा के भी इंतजाम करना विभाग की जिम्मेदारी है। लेकिन वर्तमान में संवेदक फर्म कार्मिक खुद की जान जोखिम में डालकर कोरोना हॉट स्पॉट वाले इलाकों में अपनी जिम्मेदारी का वहन करने पर विवश हैं। कोरोना संक्रमण से संवेदक फर्म के कार्मिकों की जनहानि होने पर समस्त जिम्मेदारी राज्य सरकार एवं जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग की होगी।

शहर में निशुल्क जल वितरण कर रहे करीब एक हजार से ज्यादा ठेका फर्म के टैंकर चालकों को भी जोखिम में रहकर जलापूर्ति इंतजाम करने पड़ रहे हैं। ठेका फर्म संचालकों ने टैंकर चालकों को सेनीटाइजर,मास्क आदि उपलब्ध नहीं कराए हैं ऐसे में कोरोना संक्रमण का सबसे ज्यादा खतरा चालकों पर मंडरा रहा है। सरकारी टैंकरों से अलग अलग घरों तक भी निशुल्क जल वितरण किया जा रहा है ऐसे में लोगों से सीधे संपर्क में आने पर टैंकर चालकों ने ठेका फर्म संचालकों से सेनीटाइजर व मास्क उपलब्ध कराने की मांग की है।

anand yadav Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned