ड्रोन में कैद की सुस्ताती सील और जीत लिया अवॉर्ड

फ्रांसीसी फोटोग्राफर फ्लोरियन लेडौक्स ने एक अविश्वसनीय ड्रोन शॉट लेकर इनेगुरल नेचर टीटीएल फोटोग्राफर ऑफ द ईयर अवॉर्ड अपने नाम कर लिया है।

Kiran Kaur

25 Mar 2020, 03:09 PM IST

फ्रांसीसी फोटोग्राफर फ्लोरियन लेडौक्स ने एक अविश्वसनीय ड्रोन शॉट लेकर इनेगुरल नेचर टीटीएल फोटोग्राफर ऑफ द ईयर अवॉर्ड अपने नाम कर लिया है। इस तस्वीर में बर्फ के एक बड़े से खंड पर सील सुस्ता रही हैं । इस प्रतियोगिता में 100 से अधिक देशों से आई 7,000 एन्टरीज को हराकर लेडौक्स ने यह पुरस्कार अपने नाम किया है। नई फोटोग्राफी प्रतियोगिता नेचर टीटीएल द्वारा आयोजित की गई। निकोलस द्वारा स्थापित नेचर टीटीएल शौकिया और पेशेवर नेचर फोटोग्राफरों की सहायता के लिए शैक्षिक ट्यूटोरियल और सुविधाओं की पेशकश करता है। फ्लोरियन लेडौक्स कहते हैं कि वन्यजीवों के साथ ड्रोन का उपयोग करते समय अपने दृष्टिकोण के साथ जागरूक और नैतिक होना बहुत महत्वपूर्ण है। उन्होंने बताया कि ड्रोन से तस्वीर लेने के दौरान जानवर के व्यवहार पर ध्यान देना होता है और उसे हिलाना नहीं होता। वे कहते हैं कि आपको उसी तरह से ड्रोन फोटोग्राफी से संपर्क करना चाहिए जिस तरह से आप जमीन पर वन्यजीव फोटोग्राफी से संपर्क करेंगे। धीमी गति से और बहुत ऊपर से आने से अशांति का खतरा कम होता है। जब मैं बहुत ऊपर उठता हूं, तो मैं चौड़े शॉट लगाकर शुरू करता हूं, धीरे-धीरे नीचे उतरता हूं और ड्रोन को अलग-अलग ऊंचाई पर रोक देता हूं ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि जानवर डरे नहीं हैं।
प्रतियोगिता में तीन मुख्य श्रेणियों में पुरस्कार दिए जाते हैं : लैंडस्केप, वाइल्डलाइफ और मैक्रो। साथ ही 16 साल से कम उम्र के फोटोग्राफरों को पीपल्स चॉइस के आधार पर अतिरिक्त पुरस्कार प्रदान किए जाते हैं। प्रतियोगिता में पीपल्स चॉइस के अंतर्गत रोबर्ट फेर्गुसंस ने अवॉर्ड जीता। अपनी तस्वीर में उन्होंने दिखाया कि कैसे एक पक्षी मछली को खाने के लिए संघर्ष कर रहा है। फेर्गुसंस ने बताया कि मैंने अपना कैमरा पक्षियों के कुछ पोर्ट्रेट लेने और उनके व्यवहार को देखने के लिए लगाया था, तभी मैंने एक विशेष पक्षी को देखा जिसने तालाब से एक बड़ी मछली को पकड़ा था। मैंने देखा कि पक्षी पानी में चोंच डालता है और कुछ देर बाद मछली को चोंच में दबाये ऊपर की ओर मुंह करता है इस दौरान वह उसे खा लेना चाहता है लेकिन मछली उसकी ग्रिप में ठीक से आ नहीं पाती है।

Kiran Kaur Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned