जयपुर में आज से शुरू हुआ 'पिंक बेल्ट क्लब'

महिलाओं और बालिकाओं को सिखाए जाएंगे आत्मरक्षा के गुर

By: firoz shaifi

Published: 25 Apr 2018, 12:58 PM IST


जयपुर। अब स्कूल और कॉलेज में पढ़ने वाली छात्राओं और महिलाओं को सशक्त करने का बीड़ा राज्य महिला आयोग ने उठाया है। महिलाओं और छात्राओं को मानसिक रुप से मजबूत करने, आत्मबल बढ़ाने, साइबर क्राइम से सुरक्षा व कानून की जानकारी देने के लिए आज आयोग की ओर से कृषि अनुसंधान केन्द्र दुर्गापुरा में आयोजित एक कार्यशाला में पिंक बेल्ट क्लब की शुरूआत की गई। अगले महीने से कोटा , उदयपुर व अन्य जिलों में भी पिंक बेल्ट मिशन शुरू किया जाएगा।

महिला आयोग की अध्यक्ष सुमन शर्मा ने कहा कि स्कूल, कॉलेज की छात्राओं सहित लगभग 400 महिलाएं आज यहां मौजूद है और ये महिला सशक्तीकरण को दिखाता है। उन्होंने कहा कि आज हर लड़की को अपनी आत्मरक्षा करना आना जरुरी है।

इसके साथ ही उन नियम कानूनों की जानकारी होना भी जरुरी है जिसे जानकर वह अपनी लड़ाई स्वयं लड़ सकती है। उन्होंने कहा कि पिछले दो साल से आयोग की ओर से जयपुर में एक मुहिम चल रही है जिसमें आयोग की पूरी टीम स्कूल व कॉलेज जाकर लड़कियों को उनके अधिकारों के बारे में जागरुक कर रही है।

इस दौरान एक कानूनविद और विषय विशेषज्ञ को बुलाकर बच्चियों के साथ चर्चा करवाई जा रही है। बच्चियों के मन में जो भी सवाल होते हैं। वे उसे पूछती है और समस्या के समाधान के लिए उन जरुरी सरकारी इकाईयों के बारे में भी जान रही है जहां से वे न्याय पा सके।


कार्यशाला में मोटिवेशनल स्पीकर अर्पणा राजावत ने सभी बालिकाओं को आत्मरक्षा व साइबर क्राइम से सुरक्षा के गुर सिखाए और उन्हें इसका प्रशिक्षण भी दिया। इस दौरान महिला सुरक्षा संबंधी विभिन्न एप्स की जानकारी भी दी गई।


5-5 छात्राएं जुड़ेंगी 'पिंक बेल्ट क्लब
कार्यशाला से पांच-पांच छात्राओं को पिंक बेल्ट क्लब से जोड़कर उन्हें तीन दिवसीय प्रशिक्षण दिया जाएगा। ये छात्राएं अपने-अपने स्कूल व कॉलेज में जाकर अन्य छात्राओं को प्रशिक्षण देंगी।

firoz shaifi Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned