JKK: पिंकसिटी फेस्टिवल के पांचवें दिन साकार हुई पारंपरिक लोक संस्कृति

जयपुर के कला व संस्कृति प्रेमी जवाहर कला केंद्र ( JKK ) के शिल्पग्राम में चल रहे ‘पिंकसिटी फेस्टिवल’ ( Pinkcity Festival In JKK ) में लोक संस्कृति व दस्तकारी के जीवंत प्रदर्शन का आनंद ले रहे हैं।

abdul bari

January, 2409:01 PM

जयपुर।
जयपुर के कला व संस्कृति प्रेमी जवाहर कला केंद्र ( JKK ) के शिल्पग्राम में चल रहे ‘पिंकसिटी फेस्टिवल’ ( Pinkcity Festival In JKK ) में लोक संस्कृति व दस्तकारी के जीवंत प्रदर्शन का आनंद ले रहे हैं। यहां विभिन्न राज्यों के लोक नृत्यों को दर्शकों से काफी सराहना मिल रही है, जिनमें मुंबई के संतोष परब की ओर से प्रस्तुत किया गया तीव्र गति वाला ’लावणी’ नृत्य एवं पंजाब से रवि कुन्नार द्वारा किया गया ‘भांगड़ा’ नृत्य प्रमुख रहा।

डांगरी ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया ( JAIPUR NEWS )

रंग-बिरंगे परिधानों में सजे बांसवाड़ा के नारायण ने ’डांगरी’ की प्रस्तुति देकर दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया गया। हिमाचल प्रदेश के जोगेन्दर सिंह हबी ने अपने राज्य का लोकप्रिय नृत्य ‘सिरमौर नाटी‘ की आकर्षक प्रस्तुति दी। यह नृत्य लोगों में काफी लोकप्रिय है और अब यह देश के प्रमुख पारंपरिक लोक नृत्यों में शामिल हो गया है। गुजरात का अनोखा आदिवासी नृत्य ‘सिद्धि धमाल‘ गुजरात के ही शब्बीर द्वारा प्रस्तुत किया गया था।

गुजरात के राजेश द्वारा ‘राठवा‘ की प्रस्तुति

एक्शन से भरपूर इस नृत्य ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया, क्योंकि इसके प्रस्तुतकर्ताओं ने नारियल को हवा में उछाला, जो उनके सिर पर आकर फूटे। फेस्टिवल के पांचवें दिन इनके अलावा दौसा के लीला मीणा द्वारा ‘हेला गायन’ (पद गायन), मध्यप्रदेश से सोमो पांडे द्वारा ‘राई’ और गुजरात के राजेश द्वारा ‘राठवा‘ की प्रस्तुतियां भी दी गई।

यह भी पढ़ें...

हारे हुए प्रत्याशी व समर्थक बिफरे, पोलिंग बूथ पर पथराव, बस व जीप जलाई, कार्मिकों ने भागकर जान बचाई


राजस्थान में यहां हुआ मतदान बहिष्कार, गांव के 1100 मतदाताओं में से किसी ने नहीं किया मतदान


नशे में ठोकता गया कारें, पलटी खाकर फंसा तो पुलिस को धमकाते हुए बोला- वर्दी उतरवा दूंगा

Show More
abdul bari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned