विवेक ओबेरॉय को रुला देती है पिंकसिटी की यह 'ड्रामेबाज'

'इंडियाज बेस्ट ड्रामेबाज सीजन 3' में पिंकसिटी के गर्वित और जोया दिखा रहे हैं टैलेंट, अभिनेता विवेक ओबेरॉय हैं दोनों के फेवरिट

By: Aryan Sharma

Published: 02 Aug 2018, 04:56 PM IST

जयपुर. बच्चों का एक्टिंग और ड्रामा बेस्ड रियलिटी शो 'इंडियाज बेस्ट ड्रामेबाज सीजन 3' में जयपुर के पांच वर्षीय गर्वित पारीक और 10 साल की जोया शाह भी अपने टैलेंट व मासूम अदाओं से दर्शकों को इम्प्रेस कर रहे हैं। शो में एक्टर विवेक ओबेरॉय, हुमा कुरेशी और निर्देशक ओमंग कुमार जज हैं लेकिन तीनों में से गर्वित और जोया के फेवरिट विवेक ओबेरॉय हैं। जयपुर के ये ड्रामेबाज शो के सेट पर खूब धमाल करते हैं। जोया जहां अपनी इमोशनल परफॉर्मेंस से विवेक ओबेरॉय को भावुक कर देती हैं तो गर्वित अपने फन लविंग एक्ट से जजेज का दिल जीत लेते हैं।

विवेक सर ने नाम रखा 'रोया'
मालवीय नगर निवासी जोया छठी कक्षा में पढ़ती हैं। उनके फादर विकास शाह सीए और मदर सलोनी शाह हाउसवाइफ हैं। जोया बताती हैं, 'जब मैं छोटी थी तो टीवी पर आ रही फिल्मों को देखकर उनके डायलॉग बोलती थी। शबाना आजमी और स्मिता पाटिल मैम की एक्टिंग मुझे बहुत अच्छी लगती है, इसलिए मैं उनकी तरह एक्टिंग करने और डायलॉग बोलने की प्रैक्टिस करती थी। मुझे लगता था कि उनकी तरह मैं भी एक्टिंग कर सकती हूं। मैं बड़ी होकर एक्ट्रेस बनना चाहती हूं ताकि मेरा भी नाम इन बड़े स्टार्स की तरह फेमस हो और सब मुझे एप्रीशिएट करें।' बकौल जोया, शो में तीनों जज अच्छे कमेंट्स देते हैं लेकिन मेरे फेवरिट विवेक सर हैं। उन्होंने मेरा नाम भी रखा है 'रोया', क्योंकि जब भी मैं इमोशनल एक्ट करती हूं तो उन्हें रुला देती हूं। यही नहीं, शो में मुझे और भी नाम मिले हैं जैसे- इमोशन की सुनामी, आंसुओं की टंकी। इतने बड़े लोग जब मुझे ऐसे नाम देते हैं तो बहुत प्राउड फील होता है। जोया को खाली टाइम में ड्रॉइंग करना पसंद है। जोया का कहना है कि पापा हमेशा मेरे साथ रहते हैं। यहां तक कि शो के लिए उन्होंने अपनी जॉब भी छोड़ दी है।

 

Jaipur

सलमान के डायलॉग करता था कॉपी
सिरसी रोड के रहने वाले गर्वित की मम्मी सुमन पारीक का कहना है, 'गर्वित बहुत बोलता था। टीवी पर आ रहे एड की कॉपी करता था। मेरी और अपनी दादी की नकल निकालता था। यहां तक कि 'बजरंगी भाईजान', 'सुल्तान', 'टाइगर जिंदा है' जैसी फिल्में देखने के बाद वह सलमान खान को कॉपी करने लगा। यह सब देखकर मैं कैजुअल वे में ही उसे ऑडिशन के लिए लेकर गई थी। मुझे उम्मीद नहीं थी कि वह सलेक्ट हो जाएगा और इस तरह शो में परफॉर्म करेगा। मुझे लगता है कि कई बार हम हाई एनर्जी बच्चों को 'शरारती', 'बदमाश', 'बहुत बोलता है' जैसे तीखे शब्द कहकर उनकी पर्सनैलिटी दबा देते हैं। अगर इन बच्चों की हाई एनर्जी को पॉजिटिव डायरेक्शन दें तो ये कमाल कर सकते हैं। गर्वित की हाई एनर्जी शो में सार्थक साबित हुई।' बकौल सुमन, गर्वित के फेवरिट विवेक सर हैं, क्योंकि वे बच्चों में बच्चे बन जाते हैं। गर्वित की उम्र कम है इसलिए शो को लेकर उसका उत्साह देखते ही बनता है। जब वह टीवी पर आता है तो अपनी दादी को मासूमियत भरे अंदाज में बताता है कि 'अरे मैंने अपने आपको टीवी पर देख लिया।'

Salman Khan
Show More
Aryan Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned