कला प्रदर्शनी में मिली महिला प्रतिनिधियों के बनाए उत्पादों को जगह

—जेकेके में चल रही हैं कला प्रदर्शनी

By: Teena Bairagi

Published: 19 Jan 2019, 10:53 AM IST

Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

—डेढ़ सौ में से 50 स्टॉल स्वयं सहायता समूहों को मिली
जयपुर
जवाहर कला केंद्र में स्वायत्तशासन विभाग और प्रतिभा एजुकेशनल डवलपमेंट रिसर्च सोसाइटी की ओर से शिल्पग्राम में पांच दिवसीय कला प्रदर्शनी की शुरुआत के बाद यहां आने के प्रति लोगों में खासा आकर्षण भी बना हुआ है। इस बार इस कला प्रदर्शनी में एक खास बात विशेष आकर्षण का केंद्र बनी हुई है और वो है महिलाओं द्वारा बनाए गए उत्पादों की स्टॉल। ये संभवत: पहला अवसर है जब स्वयं सहायता समूहों की महिला प्रतिनिधियों को भी इस प्रदर्शनी में शामिल किया गया है।
प्रदर्शनी में लगभग 150 स्टॉल लगी है। इनमें से 50 स्टॉल स्वयं सहायता समूहों की है। इन पर हाथ से बनें विभिन्न उत्पाद बिक्री के लिए रखे गए है। अभी तक महिला अधिकारिता विभाग की ओर से स्वयं सहायता समूहों द्वारा बनाए गए उत्पादों को जिला स्तर पर बिक्री के लिए रखा जाता था। इन उत्पादों की गुणवत्ता जांच को बकायदा अमृता मार्केटिंग सोसायटी के द्वारा जांचा परखा जाता है उसके बाद ही इन्हें स्टॉल उपलब्ध कराई जाती है। उल्लेखनीय है कि विभाग में तकरीबन दो लाख स्वयं सहायता समूह है जो घर बैठे ही विभिन्न तरह के उत्पाद बना रहे है। जिन्हें हर साल विभाग की ओर से मंच उपलब्ध कराया जा रहा है।

विशेष सामानों की बिक्री——
यदि महिलाओं की स्टॉल पर नजर डालें तो समूह की महिला प्रतिनिधियों द्वारा हाथ से बनाई हुई वस्तुओं में मूंग, मंगौड़ी, पापड़, बड़ी, अचार, नमकीन के अलावा मिट्टी के खिलौने व अन्य सजावटी सामान शामिल है। इन समूहों को महिला एवं बाल विकास विभाग के बाद अन्य विभाग की ओर से संभवत: ये पहला मौका दिया गया है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned