प्लेसमेंट प्रक्रिया के लिए बने वेब पोर्टल: यादव

प्लेसमेंट प्रक्रिया के लिए बने वेब पोर्टल: यादव

Veejay Chaudhary | Publish: Sep, 10 2018 11:26:58 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

फैक्टरी एवं बॉयलर विभाग को भी दिए निर्देश

जयपुर. श्रम मंत्री डॉ. जसवंत सिह यादव ने कहा कि राजस्थान कौशल एवं आजीविका विकास निगम की ओर से आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रमों में ट्रेनेर्स की क्षमता एवं गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाए, ताकि प्रशिक्षण कार्यक्रमों के बेहतर परिणाम सामने आ सकें। यादव सोमवार को यहां कौशल भवन परिसर में विभाग द्वारा आयोजित समीक्षात्मक बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
आइटीआइ को मिले नवीनतम टूल्स
उन्होंने प्लेसमेंट प्रक्रिया को सुदृढ़ करने तथा शिकायतों के उचित निवारण के लिए एक वेब पोर्टल तैयार करने की बात कही। उन्होंने तकनीकी शिक्षा विभाग को निर्देश दिए कि विभाग द्वारा प्रशिक्षण के लिए नवीनतम टूल्स की उपलब्धता राजकीय आइटीआइ में सुनिश्चित की जाए। श्रम मंत्री ने फैक्टरी एवं बॉयलर विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए और कहा कि विभाग एेसे कारखानों का पता लगाए, जिनका पंजीयन नहीं है। एेसे कारखानों का समयबद्ध रूप से निरीक्षण सुनिश्चित किया जाए, ताकि भविष्य में किसी अप्रिय घटना को रोका जा सके। इस अवसर पर श्रम मंत्री ने विभाग की नवीनतम ‘कारखाना सुरक्षा पुरस्कार योजना’ का विमोचन किया।

इओआइ प्रक्रिया को ऑनलाइन
श्रम मंत्री ने पेपरलैस विभाग में कार्य किए जाने कि सराहना करते हुए अपंजीकृत कारखानों एवं बॉयलर्स की जानकारी के लिये विभिन्न विभागों से सूचना प्राप्त कर निरीक्षण करने के निर्देश भी दिए। मुख्य कारखाना एवं बायलर्स विभाग के मुख्य निरीक्षक ने विभागीय कार्यों की प्रगति एवं इनको पेपरलैस किए जाने के बारे में जानकारी दी। श्रम विभाग के निदेशक निकया गोहाएन द्वारा प्रेजेंटेशन के माध्यम से बताया कि विभाग द्वारा इओआइ प्रक्रिया को ऑनलाइन कर दिया गया हैं। विभाग के सचिव ने निगम को निर्देश दिए कि ऑनलाइन प्रक्रिया में इस बात पर ध्यान दिया जाए कि प्रस्ताव प्रेषित करने वाली सभी संस्थाओं को अंतिम समय तक सहायता प्रदान की जाती रहे ताकि कोई भी संस्था प्रस्ताव प्रेषित करने से वंचित नहीं रहे। बैठक में विभाग के सचिव राजेश यादव, विभाग के वरिष्ट अधिकारी उपस्थित रहे।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned