सांड से पर्यटक की मौत का ठीकरा 1056 भूखंडधारियों पर फूटेगा...पढ़िए कैसे ?

शहर में चल रही अवैध डेयरियों पर निगम की कार्रवाई के बाद अब जेडीए भी चेता।

By: Bhavnesh Gupta

Updated: 05 Jan 2018, 08:09 AM IST

डेयरी संचालकों को शहर से बाहर दिए गए भूखंडों के उपयोग नहीं करने पर उनका आवंटन निरस्त होगा। इन भूखंडों की संख्या 1056 है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद जेडीए ने करीब 13 वर्ष पहले 1256 डेयरी संचालकों के लिए शहरी क्षेत्र ये बाहर 3 जगह डेयरी योजना सृजित की। इसमें केवल दो सौ डेयरी संचालकों ने भूखंड का उपयोग किया। कईयों ने जमीन ही बेच दी तो कई जगह कारखाने, गैराज, दुकानें बना ली गई। पिछले दिनों आवारा सांड के हमले से विदेशी पर्यटक की मौत के बाद निगम ने अवैध डेयरियों को ध्वस्त करना शुरू किया। इसके बाद जेडीए की नींद खुली। जेडीए ने भूखंड आवंटन के बाद इनकी सुध ही नहीं ली, जिसके कारण ऐसे हालात पनपे।


निगम अफसर सक्रिय तो जेडीए चेता...
पर्यटक की मौत के बाद निगम ने अवैध डेयरी संचालन रोकने का जिम्मा पशु जन स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. हरेन्द्र सिंह को सौंपा। इसके बाद शहर में 4200 गाय, सांड पकड़े गए। करीब 40 अवैध डेयरियों को ध्वस्त किया और चालीस से ज्यादा को सील कर दिया गया। इसके बाद जेडीए प्रशासन चेता और डेयरी योजनाओं में आवंटित और अनुपयोगी भूखंडों की सूची तैयार की। इस मामले में बुधवार को जेडीए व निगम अधिकारियों के बीच बैठक भी हुई, जिसमें भी हरेन्द्र सिंह ने ऐसे भूखंड का आवंटन निरस्त कर दूसरे डेयरी संचालकों को आवंटित करने की जरूरत जताई। निगम शहर में संचालित डेयरियों का सर्वे कर जेडीए को सूची उपलब्ध कराएगा।


यहां सृजित है योजना...
—वर्ष 2004—05 में ग्राम रमल्यावाला, ग्राम हरचंदपुरा व सूरजपुरा भाटावाला में डेयरी योजना सृजित की गई।
—1256 डेयरी संचालकों को भूखंड आवंटन किया गया
—200 आवंटी ही मौके पर हैं काबिज
—1056 भूखंड खाली या अन्य उयोग किया जा रहा


कहां—कितने भूखंड होंगे निरस्त...
—रामल्यवाला डेयरी योजना में 445
—हरचंदपुरा और हरचंदपुरा विस्तार— 229
—सूरजपुरा भाटावाला— 382

 

(आवारा सांड के हमले से विदेशी पर्यटक की मौत के बाद निगम ने अवैध डेयरियों को ध्वस्त करना शुरू किया। इसके बाद जेडीए की नींद खुली। जेडीए ने भूखंड आवंटन के बाद इनकी सुध ही नहीं ली, जिसके कारण ऐसे हालात पनपे)

Bhavnesh Gupta Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned