देश के लाखों किसानों को अभी लाभ मिलने का इंतजार

Pm Kisan samman Nidhi Yojana : प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना को लागू हुए एक साल पूरा हो गया है....

By: Ashish

Published: 03 Dec 2019, 06:35 PM IST

Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

जयपुर
pm kisan samman nidhi yojana : प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना को लागू हुए एक साल पूरा हो गया है लेकिन केन्द्र सरकार ने इस योजना को लेकर जो लक्ष्य का अनुमान लगाया था, वो अभी तक अधूरा ही है। इस वजह से देशभर में लाखों किसानों को इस योजना की किश्त मिलने का इंतजार है। इस बात का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है, चालू वित्तीय वर्ष में इस योजना के लिए जितनी राशि निर्धारित की गई थी, उसमें से महज 37 फीसदी राशि ही अक्टूबर तक खर्च हो पाई है। अभी भी देशभर में 3.96 करोड़ किसानों को ही योजना के तहत तीसरी किश्त मिली है जबकि केन्द्र सरकार ने देशभर में करीब 14 करोड़ किसानों के इस योजना से जुड़ने का अनुमान लगाया था। ऐसे में बड़ी संख्या में किसानों को इस योजना का लाभ नहीं मिल पाया है।

आपको बता दें कि पीएम किसान सम्मान निधि स्कीम के तहत देशभर के 14.5 करोड़ किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए चालू वित्तीय वर्ष में करीब 87 हजार करोड़ रुपए खर्च होने का अनुमान लगाया गया था, लेकिन अब तक सिर्फ 35 हजार करोड़ ही किसानों को मिल पाए हैं। ऐसे में लाखों किसानों को इस योजना के तहत राशि मिलने का इंतजार है। किसानों को राशि मिलने में हो रही देरी के पीछे लेटलतीफी होने की बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता है।

योजना का पूरा हुआ सालभर
पीएम किसान सम्मान निधि योजना एक दिसंबर 2018 से प्रभावी हो गई थी। इस योजना के तहत किसानों को सालभर में दो दो हजार रुपए की तीन किश्तों के जरिए कुल 6 हजार रुपए सीधे उनके खातों में भेजे जाने का प्रावधान हैं। इस स्कीम के तहत 2000 रुपए की पहली किश्त 1 दिसंबर 2018 से 31 मार्च 2019 के बीच किसानों को भेजी जानी थी। जबकि अंतिम और तीसरी किश्त 30 नवंबर 2019 तक किसानों को मिल जानी चाहिए थी। लेकिन 1 दिसंबर 2019 तक अंतिम किश्त सिर्फ 3.86 करोड़ किसानों तक ही पहुंच पाई है। यानि बड़ी संख्या में किसानों तक इस योजना का लाभ पहुंचना अभी बाकी है।
अब तक मिला इतना लाभ
मिली जानकारी के मुताबिक 1 दिसंबर तक 7.62 करोड़ किसानों तक योजना की पहली किश्त जबकि 6.49 करोड़ किसानों तक दूसरी किश्त पहुंची है। हालांकि इस योजना का लाभ मिलने में हो रही देरी के पीछे सामने आ रही कई तरह की वजहों के बाद केन्द्र सरकार ने योजना को सरल बना दिया है। अब इस योजना के तहत कोई भी किसान आसानी से अपना पंजीयन करवा सकता है। किसान अपने नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर या ईमित्र केन्द्र पर जाकर पंजीयन करवा सकता है। कोई भी किसान पीएम किसान पोर्टल पर जाकर अपना आधार, मोबाइल और बैंक खाता नंबर दर्ज करके योजना के तहत मिले लाभ की जानकारी भी ले सकता है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned