'सत्याग्रह दिवस' पोएट्री प्रतियोगिता के विजेताओं की घोषणा, जानें कौन बना विजेता

राजस्थान के विभिन्न जिलों से मिलीं 600 एंट्रीज
प्रतियोगिता के 11 विजेताओं के नामों की घोषणा

By: SAVITA VYAS

Published: 03 Oct 2020, 09:08 PM IST

जयपुर। सत्याग्रह दिवस पर 11 सितंबर को आयोजित 'पोएट्री राइटिंग एंड रीडिंग प्रतियोगिता' के विजेताओं के नामों की घोषणा जवाहर कला केंद्र के फेसबुक पेज पर शनिवार को आयोजित 'ओपन माइक कवि सम्मेलन' के दौरान की गई। 'सत्यमेव जयते' प्रतियोगिता में राजस्थान के विभिन्न जिलों से कई भाषाओं में 600 एंट्रीज प्राप्त हुईं। यह कार्यक्रम कला, संस्कृति एवं पुरातत्व विभाग, राजस्थान सरकार, जेकेके और भाषा अकादमी (संस्कृत, राजस्थानी, ब्रजभाषा, उर्दू और सिंधी अकादमी) के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित किया गया।

कला एवं संस्कृति मंत्री डॉ. बी.डी. कल्ला ने कहा कि यह प्रतियोगिता जवाहर कला केंद्र की ओर से महात्मा गांधी और उनके सिद्धांतों से युवा पीढ़ी को जोड़ने का महत्त्वपूर्ण प्रयास है। विभिन्न भाषाओं को प्रोत्साहित करने के लिए प्रतियोगिता में हिंदी, राजस्थानी, पंजाबी और अंग्रेजी में एंट्रीज स्वीकार की गईं। उन्होंने कहा कि पोएट्री अतीत और वर्तमान की साक्षी है और भविष्य के लिए एक प्रेरणा है।

प्रतियोगिता के 11 विजेताओं की घोषणा की गई। जेकेके की महानिदेशक मुग्धा सिन्हा ने कहा कि पहला पुरस्कार चूरू के सुजानगढ़ निवासी दीपक अग्रवाल को दिया गया। दूसरा पुरस्कार जालोर से धीरज कुमार दवे और तीसरा पुरस्कार जयपुर से आशा शर्मा ने जीता। प्रतियोगिता के अन्य विजेताओं में - अजमेर से राजेश नरुका, बीकानेर से कमल रंगा, बीकानेर से मोनिका गौड़, झुंझुनूं से प्रदीप शर्मा, भीलवाड़ा से नवीन कुमार, पाली से डॉ. ईश्वर चंद्र शर्मा, हनुमानगढ़ से शिवराज भारती और बूंदी से राकेश सक्सेना शामिल थे। प्रतियोगिता के विजेता और प्रतिभागी अपने विजयी प्रमाण-पत्र और प्रतिभागिता प्रमाण-पत्र क्रमशः ईमेल के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं।

SAVITA VYAS Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned