पुलिस भर्ती परीक्षा दे रहे सोलह लाख से ज्यादा अभ्यर्थियों की बढ़ी मुश्किलें, दिल्ली-हरियाणा तक की परीक्षाएं हो चुकी हैं हैक

पुलिस भर्ती परीक्षा दे रहे सोलह लाख से ज्यादा अभ्यर्थियों की बढ़ी मुश्किलें, दिल्ली-हरियाणा तक की परीक्षाएं हो चुकी हैं हैक

dinesh saini | Publish: Mar, 14 2018 01:22:45 PM (IST) | Updated: Mar, 14 2018 02:05:07 PM (IST) Jaipur, Rajasthan, India

दिल्ली और हरियाणा से पूरी गैंग के तार जुडऩे के साथ ही एसओजी की दो टीमें दिल्ली और हरियाणा में सर्च कर रही हैं...

जयपुर। राजस्थान में पुलिस भर्ती परीक्षा में हो रही नकल पर एसओजी के छापे के बाद अब हमेशा की तरह उन अभ्यर्थियों की परेशानी बढ़ गई है जो परीक्षा दे रहे हैं। एसओजी ने उन सभी जिलों के पुलिस अफसरों को चेताया है कि वे अपने-अपने क्षेत्र के परीक्षा केंद्रों पर और ज्यादा सख्ती से अभ्यर्थियों की चैकिंग करें और इंटरनेट के प्रयोग को पूरी तरह से बैन करें। गौरतलब है कि पैंतालीस दिनों तक प्रदेश के दस जिलों में सोलह लाख से ज्यादा अभ्यर्थी पुलिस भर्ती परीक्षा में शामिल हो रहे हैं।

 

एसओजी का सर्च जारी
दिल्ली और हरियाणा से पूरी गैंग के तार जुडऩे के साथ ही एसओजी की दो टीमें दिल्ली और हरियाणा में सर्च कर रही हैं। दिल्ली में गाजियाबाद और हरियाणा में रोहतक एवं अन्य जिलों में एसओजी की तलाश जारी है।


जयपुर के मुरलीपुरा में आज मारा छापा
एसओजी ने इस मामले में अब तक आठ से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया है। जयपुर के बाद नागौर से भी दो लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। इन सभी को दस दिन की रिमांड पर लेकर पूछताछ की जा रही है। कल शाम हुई पूछताछ के आधार पर आज सवेरे एसओजी ने मुरलीपुरा में स्थित एक स्कूल पर छापा मारा है। स्कूल संचालक से भी पूछताछ की जा रही है। बताया जा रहा है कि एक निजी स्कूल भी इन बदमाशों के संपर्क में था और नकल कराने में सहयोग कर रहा था। उस पर भी मुकदमा दर्ज कर जांच करने की तैयारी है। वहां से दस्तावेज जब्त किये गए हैं।


और बड़ा हो सकता है नेटवर्क
गिरफ्तार आरोपियों के मोबाइल जब्त करने के साथ ही उनसे जो जानकारी मिल रही है इस आधार पर कहा जा सकता है नेटवर्क बड़ा है। अब तक आठ से दस लोगों को अरेस्ट किया जा चुका है। गिरफ्तार लोगों की संख्या करीब चालीस तक पहुंच सकती है।


दिल्ली-हरियाणा में परीक्षाएं कीं हैक
एसओजी की पूछताछ में सामने आया है कि गैंग ने पहली बार राजस्थान में किसी परीक्षा को हैक करने की कोशिश की थी। लेकिन अपने पहले ही प्रयोग में वे असफल हो गए और एसओजी ने सभी को धर लिया। कंप्यूटर्स को तकनीक के जरिए हैक करने वाले और हर दिन दस हजार रुपए फीस लेने वाले अभिमन्यु और संजय पहले भी चार परीक्षाओं को हैक कर चुके हैं। ये परीक्षाएं दिल्ली और हरियाणा में आयोजित हुई थीं। इनमें भी मुख्यतार, पंकज, संजय, अभिमन्यु और टीम के अन्य लोगों ने मोटा पैसा कमाया था।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned