बदमाश को पकडऩे गए पुलिसकर्मियों के सिर फोड़े

मांढण थानाधिकारी सहित दो पुलिसकर्मी घायल

By: jagdish paraliya

Published: 19 Mar 2020, 05:15 PM IST

मांढण(माजरीकलां अलवर). थाना क्षेत्र के रायसराणा गांव में बुधवार सुबह पंजाब पुलिस के जवान व मांढण पुलिस मय जाप्ता रायसराणा गांव में ओमप्रकाश बावरिया को वारंट  के तहत गिरफ्तार करने गई  थी।  इस दौरान ओमप्रकाश ने अपने परिवार के साथ पुलिस पर लाठी डंडे व पत्थरों से हमला कर दिया। हमले में मांढण थानाधिकारी विक्रम सिंह व हैड कांस्टेबल अशोक यादव सहित पंजाब पुलिस के जवानों को चोटें आई हैं। पुलिस ने मुश्किल से खेतों में भागकर अपनी जान बचाई। इसके बाद नीमराणा एडीश्नल एसपी सिद्धार्थ शर्मा,नीमराणा डीएसपी, नीमराणा थानाधिकारी, शाहजहांपुर थानाधिकारी व क्यूआरटी के जवान बदमाश को पकडऩे रायसराणा गांव पहुंचे जहां से ओमप्रकाश बावरिया परिवार मौके से फरार हो गया। पुलिस ने मौके पर बावरिया परिवार की घर की तलाशी ली। पुलिस ने ओमप्रकाश बावरिया के घर पर पुलिस के जवानों की तैनात किया है व पुलिस ओमप्रकाश बावरिया के परिवार की तलाशी में जुट गई है।

महिला को भगा ले जाने का है आरोप
जानकारी के अनुसार रायसराणा निवासी ओमप्रकाश बावरिया पर पंजाब राज्य से एक पुलिस थाने में किसी महिला को भगा ले जाने का मामला दर्ज है। पंजाब पुलिस के दो जवान ओमप्रकाश बावरिया को महिला के भगा ले जाने के आरोप में गिरफ्तारी वारंट पर पहुंचे थे।

इधर, पुलिस ने १५ साल के लापता बच्चे को हवालात में रखा!
सीकर. दौसा से लापता 15 साल के बालक को सीकर पुलिस ने मारपीट व लूट के आरोपियों के साथ १५ घंटे से ज्यादा वक्त तक हवालात में रखा। कोतवाली पुलिस को सोमवार रात करीब साढ़े आठ बजे बच्चा स्टेशन के बाहर घूमता मिला। पुलिस उसे थाने ले गई। नाम-पता पूछने के बाद उसे कुछ देर थाने में ही बैठा कर रखा। रात को उसे हवालात में बंद कर दिया। उसमें ८-१० आरोपी पहले से बंद थे। अगले दिन मंगलवार दोपहर २.५० बजे लापता बच्चे की सूचना चाइल्ड लाइन को दी गई। इसके बाद बच्चे को बाल कल्याण समिति के सदस्य गजेंद्र सिंह के समक्ष पेश किया गया। बच्चे की काउंसलिंग के बाद परिजनों को सूचना दी गई। बाद में उसे शेल्टर होम भिजवा दिया।

ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। कोतवाली पुलिस को बच्चा मंगलवार दोपहर को ही मिला था। इसके बाद चाइल्ड लाइन को सूचना देकर शाम को बाल कल्याण समिति के पास पेश कर दिया था।
राजेश आर्य, डीएसपी

jagdish paraliya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned