राजनीतिक नियुक्तियों के लिए नेताओं की पीसीसी में दस्तक, बायोडाटा लेकर पहुंच रहे कार्यकर्ता

राजनीतिक नियुक्तियों के तौर पर निकायों में अब तक हो चुकी है पांच सौ से ज्यादा मनोनीति पार्षदों की नियुक्ति, प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय के साथ मंत्रियों-विधायकों के यहां भी बायोडाटा लेकर पहुंच रहे कार्यकर्ता

By: firoz shaifi

Published: 06 Jul 2020, 10:43 AM IST

जयपुर। राज्य सरकार की ओर से प्रदेश के विभिन्न निकायों में राजनीतिक नियुक्तियों के तौर मनोनीत पार्षदों की नियुक्तियों के बीच कांग्रेस कार्यकर्ता भी राजनीतिक नियुक्तियों में एडजस्ट होने के लिए इन दिनों मंत्रियों-विधायकों के यहां चक्कर लगाने के साथ ही प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में भी दस्तक दे रहे हैं।

पिछले कई दिनों से कार्यकर्ता और नेता पीसीसी आकर पार्टी पदाधिकारियों और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट से मुलाकात कर राजनीतिक नियुक्तियों में एडजस्ट किए जाने की मांग कर रहे हैं। प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय आने वाले कार्यतकर्ता और नेता अपने साथ बायोडाटा और विधानसभा-लोकसभा चुनाव में किए गए कामकाज का ब्यौरा भी लेकर पहुंच रहे हैं।

राजधानी जयपुर ही नहीं बल्कि, नागौर, बीकानेर, बाड़मेर, जैसलमेर सहित प्रदेश के दूर-दराज के जिलों से प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पहुंच रहे हैं।

 

इसलिए भी पहुंच रहे हैं कांग्रेस मुख्यालय
दरअसल प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और राज्य के उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट कई बार सार्वजनिक तौर पर राजनीतिक नियुक्तियों में आम कार्यकर्ताओं को सम्मान दिलाने की बात कह चुके हैं। पायलट कह चुके हैं कि विपक्ष में रहते पूरे पांच साल पार्टी के लिए काम करने वाले कार्यकर्ताओं और नेताओं को ही राजनीतिक नियुक्तियों में एडजस्ट किया जाएगा। इसी के चलते इन दिनों कार्यकर्ता बायोडाटा लेकर प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पहुंच रहे हैं।



प्रदेश में 10 हजार से ज्यादा होनी है राजनीतिक नियुक्तियां
वहीं राजवनीतिक नियुक्तियों की बात करें तो प्रदेश में 10 हजार से ज्यादा राजनीतिक नियुक्तियां होनी हैं जिनमें ब्लॉक, जिला और प्रदेश स्तरीय राजनीतिक नियुक्तियां हैं। इसके अलावा तीन दर्जन से ज्यादा से निगम-बोर्ड और आयोग भी जहां राजनीतिक नियुक्तियां होनी हैं।

ये हैं प्रमुख निगम-बोर्ड, आयोग
राज्य मानवाधिकार आयोग, महिला आयोग, ओबीसी आयोग, एससी-एसटी आयोग, अल्पसंख्यक आयोग, किसान आयोग, वित्त आयोग, निशक्तजन आयोग, हाउसिंग बोर्ड, यूआईटी, आरटीडीसी, मदरसा बोर्ड, हज कमेटी, देवस्थान विभाग, बीज निगम, अल्पसंख्यक वित्त निगम, प्रशासनिक सुधार आयोग, जन अभाव अभियोग निराकरण समिति, माटी कला बोर्ड, केश कला बोर्ड प्रमुख हैं।

इनका कहना है
हां कार्यकर्ता बायोडाटा लेकर पीसीसी आ रहे हैं और अपनी बात रख रहे हैं, कार्यकर्ता राजनीतिक नियुक्तियों में सम्मान दिया जाएगा।
महेश शर्मा, संगठन महामंत्री, प्रदेश कांग्रेस

firoz shaifi Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned