वसुंधरा राजे के पीए के फोन टेपिंग की चर्चाओं पर राजस्थान में राजनीति गरमाई

भाजपा-कांग्रेस नेताओं ने लगाए एक दूसरे पर आरोप

By: Arvind Singh Shaktawat

Published: 21 Jul 2021, 10:08 AM IST

जयपुर।

अरविन्द सिंह शक्तावत

प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष वसुंधरा राजे के निजी सचिव के फोन टेपिंग की चर्चाओं ने एकाएक प्रदेश की राजनीति में हलचल पैदा कर दी है। कांग्रेस ने जहां इस मामले में पीएम मोदी पर सीधा हमला बोला, वहीं भारतीय जनता पार्टी के नेता इस मामले में पीएम का बचाव करती दिखे। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि जब भाजपा की नेता के फोन ही टेप हो रहे हैं तो फिर बचा ही क्या है। वहीं, भाजपा ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि उनके पास कोई आधार नहीं है। बिना आधार ही वसुंधरा राजे का नाम लेकर राजनीति करने की कोशिश की जा रही है। पत्रिका ने इस मामले में वसुंधरा राजे के स्टाफ से भी बात करने की कोशिश की, लेकिन किसी तरह का कोई जवाब नहीं आया।

किस नेता ने क्या कहा
- विजया राजे सिंधिया जिन्होंने भाजपा को खड़ा किया। उनके परिवार की सदस्य और अपनी ही पार्टी की मुख्यमंत्री रही वसुंधरा राजे तक की जासूसी के लिए उनके निजी सचिव का फोन टेप करा दिया गया, तो फिर देश में अब बचा क्या है। राजे की निगरानी के लिए निजी सचिव के फोन टेपिंग कराने से यह भी साबित हो गया है कि जो राजस्थान में चर्चा चल रही है कि नरेन्द्र मोदी और अमित शाह ने वसुंधरा राजे को चाय में मक्खी की तरह बाहर निकालकर फेंक दिया है। उसकी भी पुष्टि हो गई है।- गोविन्द सिंह डोटासरा, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष

- पेगेसस जासूसी मामले में पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के सचिव के जासूसी की चर्चा के मामले में कांग्रेस ये बताएं कि कौनसा नंबर टैप किया गया। कब-कब किया गया। कांग्रेस केवल चाय के प्याले में तूफान लाने की कोशिश कर रही है। इनके पास कोई तथ्य नहीं है। - राजेन्द्र राठौड़, उपनेता प्रतिपक्ष

Prime Minister Narendra Modi
Arvind Singh Shaktawat Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned