scriptPower consumers will have to bear the burden of 35 paise unit | इंडोनेशिया के कोयल से करंट...बिजली उपभोक्ताओं पर पड़ेगा 35 पैसे यूनिट का भार | Patrika News

इंडोनेशिया के कोयल से करंट...बिजली उपभोक्ताओं पर पड़ेगा 35 पैसे यूनिट का भार

अडानी इंडोनेशिया से लाएगा प्रदेश के बिजलीघरों के लिए कोयला

जयपुर

Published: May 28, 2022 12:22:43 pm

भवनेश गुप्ता
जयपुर। कोयला और बिजली संकट से जूझ रहे राजस्थान के बिजलीघरों में अडानी एंटरप्राइजेज इंडोनेशिया से कोयला पहुंचाएगा। राज्य विद्युत उत्पादन निगम ने यह काम अडानी को सौंपा है। फिलहाल 5.79 लाख मीट्रिक टन कोयला आयात किया जा रहा है, जिसकी कुल लागत करीब 1042 करोड़ रुपए आंकी गई है। खास यह है कि इससे बिजली उत्पादन लागत 35 पैसे यूनिट महंगा (कोयला आयात करने तक) हो जाएगा, जिसका भार विद्युत उपभोक्ताओं पर पड़ेगा। संभवतया यह फ्यूल सरचार्ज के रूप में लेंगे। अफसरों ने विदेशी कोयला आयात करने के लिए केन्द्र सरकार के निर्देश का हवाला दिया है। इसमें कोयले के सीमित भंडार का कारण गिनाया गया।

इंडोनेशिया से बिजलीघर तक पहुंचाएगा : लागत 18 हजार रुपए टन
निविदा में दो फर्म शामिल हुई, लेकिन एक फर्म ने तो निर्धारित दस्तावेज ही जाम नहीं कराए। इसलिए केवल अडानी एंटरप्राइजेज ही सफल हुई। कंपनी को इंडोनेशिया से लाकर बिजलीघर में कोयला पहुंचाना होगा। कोयला खरीद और परिवहन की कुल लागत 18 हजार रुपए प्रति टन है। हालांकि, कंपनी जब विदेश से कोयला लेगी, उस समय की लागत से बिलिंग होगी।
इंडोनेशिया के कोयल से करंट...बिजली उपभोक्ताओं पर पड़ेगा 35 पैसे यूनिट का भार
इंडोनेशिया के कोयल से करंट...बिजली उपभोक्ताओं पर पड़ेगा 35 पैसे यूनिट का भार
कोल इंडिया ने 1.21 लाख टन घटाया कोयला
विद्युत व कोयला मंत्रालय का आदेश है कि राज्य अपने स्तर पर 10 प्रतिशत तक कोयला आयात करें। आयातीत कोयला कोल इंडिया की कंपनियों से मिलने वाले कोयले में मिलाएं। इससे कम कोयले में ज्यादा बिजली उत्पादन होगा। इसी आधार पर कोल इंडिया लि. ने राजस्थान के स्टॉक में से 1.21 लाख टन कोयला घटा दिया है। एक माह में 10 से 10.50 लाख टन कोयला आता है।
इन पावर प्लांट में पहुंचेगा कोयला
छबड़ा थर्मल- 2.25 लाख
सूरतगढ़ थर्मल प्लांट- 2.25 लाख
कोटा थर्मल प्लांट- 1.29

किस माह में कितना आएगा कोयला
जून- 75 हजार
जुलाई- 1.25 लाख टन
अगस्त- 1.25 लाख टन
सितम्बर- 1.29 लाख टन
अक्टूबर- 1.25 लाख टन
स्थानीय और विदेशी कोयले की कीमत
-4500 से 5 हजार रुपए मीट्रिक टन है स्थानीय कोयला
-17 से 19 हजार रुपए मीट्रिक टन है विदेशी कोयला


यह बता रहे फायदा
-स्थानीय कोयला : 1 यूनिट बिजली उत्पादन के लिए 600 ग्राम कोयला उपयोग में आ रहा है।
-विदेशी कोयला : 1 यूनिट बिजली उत्पादन 500 ग्राम कोयले से हो जाएगा।

-केन्द्र सरकार के निर्देश हैं कि विदेश से कोयला आयात करें। निविदा के जरिए अडानी एंटरप्राइजेज को काम सौंपा है। इंडोनेशिया से कोयला पांच माह तक किश्तों आएगा।
-आर.के. शर्मा, सीएमडी, राज्य विद्युत विनियामक आयोग

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather. राजस्थान में आज 18 जिलों में होगी बरसात, येलो अलर्ट जारीसंस्कारी बहू साबित होती हैं इन राशियों की लड़कियां, ससुराल वालों का तुरंत जीत लेती हैं दिलशुक्र ग्रह जल्द मिथुन राशि में करेगा प्रवेश, इन राशि वालों का चमकेगा करियरउदयपुर से निकले कन्हैया के हत्या आरोपी तो प्रशासन ने शहर को दी ये खुश खबरी... झूम उठी झीलों की नगरीजयपुर संभाग के तीन जिलों मे बंद रहेगा इंटरनेट, यहां हुआ शुरूज्योतिष: धन और करियर की हर समस्या को दूर कर सकते हैं रोटी के ये 4 आसान उपायछात्र बनकर कक्षा में बैठ गए कलक्टर, शिक्षक से कहा- अब आप मुझे कोई भी एक विषय पढ़ाइएUdaipur Murder: जयपुर में एक लाख से ज्यादा हिन्दू करेंगे प्रदर्शन, यह रहेगा जुलूस का रूट

बड़ी खबरें

यूपी में प्रशासनिक फेरबदल, 4 IAS और 3 PCS किए गए इधर से उधरएंकर रोहित रंजन को रायपुर पुलिस नहीं कर पाई गिरफ्तार, अपने ही दो कर्मचारी के खिलाफ जी न्यूज़ ने दर्ज कराई FIRTwitter ने केंद्र के आदेश को दी कर्नाटक हाई कोर्ट में चुनौती, लगाया ये आरोपबिहार में लैंड नहीं हो सकी फ्लाइट, वापस दिल्ली एयरपोर्ट लौटीगुजरात में भारी बारिश की चेतावनी, एनडीआरएफ की नौ टीम तैनातIndian Air Force:पहली बार पिता-पुत्री की जोड़ी ने साथ उड़ाया विमानमहाराष्ट्र में शिवसेना के टूटने से डरे अरविंद केजरीवाल, अपने विधायकों से की ये अपीलपश्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था को लेकर चिंतित BJP नेता सुवेंदु अधिकारी, गृह मंत्री अमित शाह लिखा पत्र
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.