Bihar Deputy CM सुशील मोदी झूठ बोल रहे हैं- Pratap Singh Khachariyawas

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी झूठ बोल रहे हैं, रेल मंत्रालय केंद्र सरकार के अधीन आता है, राजस्थान ने कोई पैसा नहीं लिया- खाचरियावास

By: surendra kumar samariya

Updated: 27 May 2020, 10:12 PM IST

राहुल सिंह, जयपुर

परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा कि बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी लगातार झूठ बोल रहे हैं। दुख की बात यह है की पहले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मजदूर और छात्रों को बिहार में लेने तक से इंतजार कर दिया था, तब भारत सरकार के आदेश के बावजूद नीतीश कुमार मजदूर और छात्रों के बिहार मे घुसने पर तैयार नहीं हो रहे थे।

बाद में कोटा में छात्रों ने आंदोलन किया और मजदूरों के भारी विरोध के बाद जब राजस्थान की सरकार ने बिहार सरकार से आग्रह किया कि मजदूर और छात्रों को बिहार छोड़ना चाहते हैं, तब छात्रों को अपने खर्चे पर बिहार ले जाने के बात बिहार सरकार ने कही थी। उसके बाद बिहार सरकार ने रेल मंत्रालय में छात्रों को बिहार ले जाने के लिए ट्रेन का किराया जमा कराया। यह किराया भी जबलपुर मंडल में जमा कराया गया।

खाचरियावास ने कहा कि रेल मंत्रालय हमारे अधीन नहीं आता है फिर भी सुशील मोदी लगातार ट्रेनों का किराया को लेकर जिस तरह से राजनीतिक बयानबाजी कर रहे हैं, मैं रेल मंत्री पीयूष गोयल को पत्र लिखूंगा कि वह अपनी ही पार्टी के नेता सुशील मोदी ( Sushil Modi ) जो किराया मांग रहे हैं वह उन्हें वापस लौटा दिया जाए।

खाचरियावास ( Pratap Singh Khacriawas ) ने कहा कि राजस्थान सरकार ने कभी बिहार सरकार ( Bihar ) से कोई पैसा नहीं मांगा, सभी राज्यों की सरकार को विनती करके छात्रों को अपने खर्चे पर अपने राज्य में ले जाने की बात कही और ट्रेनों में रेल मंत्रालय को सीधा पैसा चुकाया, रेल मंत्रालय हमारे अधीन नहीं आता है। राजस्थान सरकार ने 15 करोड़ से ज्यादा खर्च करके मजदूरों को अपने खर्च पर उत्तर प्रदेश, बिहार व देश के अन्य राज्यों में पहुंचाया है और करोड़ों रुपए खर्च करके राजस्थान के मजदूरों को हम वापस लेकर आए हैं।

राजस्थान एकमात्र देश में पहला राज्य है जहां मजदूरों को ले जाने के लिए श्रमिक बसें लगाई गयी और हरिद्वार के लिए फ्री बस सेवा शुरू की गई। राजस्थान की व्यवस्थाएं कोरोना संकट के दौरान प्रवासी मजदूरों के राशन वितरण और व्यवस्थाओं के मामले में सर्वश्रेष्ठ रही है। इसलिए अब भाजपा शासित राज्य और केंद्र के नेता अपनी गलतियों को छुपाने के लिए राजस्थान सरकार पर झूठे बेबुनियाद आरोप लगा रहे हैं।

surendra kumar samariya Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned