हिप जॉइंट रिप्लेसमेंट के बाद भी जरूरी हैं सावधानियां

हिप जॉइंट रिप्लेसमेंट के बाद भी जरूरी हैं सावधानियां

Pulakit Sharma | Updated: 20 Aug 2019, 05:30:52 PM (IST) Jaipur, Jaipur, Rajasthan, India

हड्डियों से जुड़ी कई तरह की समस्याओं के कारण वर्तमान में कूल्हे के जोड़ प्रत्यारोपण संबंधित सर्जरी काफी होने लगी है। अब मरीज कूल्हे के जोड़ में होने वाली असहनीय तकलीफ से रिप्लेसमेंट सर्जरी द्वारा निजात पाने लगे हैं। सर्जरी के कुछ समय बाद वे अपनी सामान्य दिनचर्या में लौट आते हैं। लेकिन सर्जरी के बाद भी आपको कुछ सावधानियों का ध्यान रखना जरूरी है जो आपके जोड़ को लंबे समय तक साथ चलाती है। सीनियर जॉइंट रिप्लेसमेंट और ऑर्थोस्कोपी सर्जन डॉ. एसएस सोनी हमें कुछ ऐसी ही जरूरी जानकारी दे रहे हैं जिससे हम अपने कृत्रिम जोड़ का ख्याल रख सकते हैं।

 

सीमित रखें शारीरिक गतिविधि --

डॉ एसएस सोनी ने बताया कि, सर्जरी के बाद कूल्हे के जोड़ से संबंधित शारीरिक गतिविधियों को सीमित ही रखें। पैर मोडक़र न बैठें, ऑपरेशन वाले कूल्हे को आवश्यकता से अधिक न मोड़ें, दोनों टांगों के बीच बिना तकिया लगाए कभी न लेंटें और आलथी-पालथी मारकर नहीं बैठना चाहिए।

डॉक्टर के दिशा-निर्देशों का करें पालन --

अस्पताल से डिस्चार्ज होने के बाद घर पर भी अपने डॉक्टर के निर्देशानुसार दवाएं नियमित रूप से लेते रहें। डॉक्टर द्वारा बताए गए व्यायाम नियमित रूप से करें और ऐसी गतिविधियां करने में आपको जरा भी दिक्कत महसूस होती है तो तुरंत अपने फिजियोथेरेपिस्ट से संपर्क करें।

ऑपरेशन वाले स्थान की देखभाल --

ऑपरेशन वाले घाव की पट्टी के साथ छेड़छाड़ न करें। जब तक टांके निकाल न दिए जाएं उस पर पानी न पडऩे दें। अगर आपको कूल्हे में दर्द बढऩे, टांग या टखने पर सूजन या दर्द और अस्वाभाविक लाल, घाव से स्त्राव होने या गर्मी निकलने या सांस लेने में तकलीफ होने जैसी समस्याएं होने लगें तो तुरंत अपने सर्जन से संपर्क करना चाहिए।

नियमित चेकअप में न करें लापरवाही --

डॉ एसएस सोनी बताते हैं कि, सर्जरी के बाद नियमित चेकअप में किसी तरह की लापरवाही नहीं करनी चाहिए। डॉक्टर से नियमित रूप से जांच करवानी चाहिए और उनके दिशा-निर्देशों की पालना करनी चाहिए। अगर आपको रूमेटॉइड ऑर्थराइटिस जैसी कोई बीमारी है तो उसके नियंत्रण के लिए ली जाने वाली दवाओं को डॉक्टर की सलाह पर चालू रखें।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned