जेके लॉन अस्‍पताल - मीटर खराब, तुक्‍के से लग रहे हीमोग्लोबिन टेस्ट

शहर के जे के लोन अस्पताल में गर्भवती महिलाओं के खून में हीमोग्लोबिन की जांच अनुमान से हो रही है। यहां जांच में काम आने वाली ट्यूब और मीटर खराब हो चुकी है। इनकी खरीद की सरकारी प्रक्रिया इतनी ढीली चल रही है कि मांग लिखने के ढाई महीने बाद भी उपकरण अस्पताल को नहीं मिल सके हैं। ऐसे में पुराने उपकरणों से ही काम चल रहा है और ये उपकरण इस हाल में है कि इन पर लिखे नम्बर भी पढ़ा जाना संभव नहीं है। इसके अलावा इन स्ट्रिप्स को जिन मीटर में लगाया जाता है उन मीटर में भी खराबी है।

शहर के जे के लोन अस्पताल में गर्भवती महिलाओं के खून में हीमोग्लोबिन की जांच अनुमान से हो रही है। यहां जांच में काम आने वाली ट्यूब और मीटर खराब हो चुकी है। इनकी खरीद की सरकारी प्रक्रिया इतनी ढीली चल रही है कि मांग लिखने के ढाई महीने बाद भी उपकरण अस्पताल को नहीं मिल सके हैं। ऐसे में पुराने उपकरणों से ही काम चल रहा है और ये उपकरण इस हाल में है कि इन पर लिखे नम्बर भी पढ़ा जाना संभव नहीं है। इसके अलावा इन स्ट्रिप्स को जिन मीटर में लगाया जाता है उन मीटर में भी खराबी है।

200 टेस्ट रोज लगते हैं

जेके लोन अस्पताल में आउटडोर के लिए लैब बना रखी है। इस लैब में आउटडोर के दौरान लिखी गई जांचें होती है। गर्भवती महिलाओं की मुख्यत: हीमोग्लोबिन की जांचें लिखी जाती है। लैब के अनुसार लगभग 200 टेस्ट रोज लगते हैं।

मात्र 40 रुपए का मामला
सरकारी लापरवाही का आलम यह है कि एचबी ट्यूब और मीटर की बाजार में कीमत मात्र 40-50 रुपए और 200-250 रुपए है। लैब प्रभारी के अनुसार 30 सितम्बर को ही उपकरणों की मांग की जा चुकी है। 24 ट्यूब और 6 मीटर मांगे गए हैं। इसके बाद तीन बार पत्र भी लिखे जा चुके हैं।

ऐसे होती है जांच

रक्त लेने के बाद इसमें डिस्टिल वाटर मिलाया जाता है। इसके बाद घोलकर पहले ट्यूब में और फिर मीटर में रीडिंग ली जाती है। ट्यूब में लिखे अंकों और मीटर में आने वाली रीडिंग मिलाने के बाद ही रिपोर्ट दी जाती है। यहां दोनों ही उपकरण खराब हैं।

दे चुके हैं रिमाइंडर
सितम्बर में ही मांग कर ली थी। इसके बाद रिमाइंडर लिख दिए हैं। अब तो ट्यूब के नम्बर ही मिट चुके हैं। अंदाजे से ही रिपोर्ट देनी पड़ रही है। - आनन्द सोनी, प्रभारी,ओपीडी लैब, जेके लोन

shailendra tiwari Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned