अतिक्रमण पर हथौड़े की कवायद, परकोटे में फिर चलेगा ऑपरेशन पिंक

हैरिटेज निगम, पुलिस की संयुक्त बैठक में निर्णय
बाजारों से अतिक्रमण हटवाने के लिए शुरू होगा अभियान

By: Amit Pareek

Published: 05 Mar 2021, 12:02 AM IST

जयपुर. अतिक्रमण करने वालों की अब खैर नहीं। परकोटे के बाजारों विशेषकर बरामदों एवं अन्य क्षेत्रों से अतिक्रमण हटवाने के लिए ऑपरेशन पिंक फिर से चलेगा। हैरिटेज नगर निगम और पुलिस की ओर से संयुक्त रूप से यह अभियान चलाया जाएगा। यह निर्णय निगम आयुक्त लोकबंधु एवं पुलिस उपायुक्त (उत्तर) परिस देशमुख की अध्यक्षता में हैरिटेज मुख्यालय में बैठक मे किया गया।
बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिए कि बरामदों एवं बरामदों के बाहर हो रहे अतिक्रमण को हटवाने के लिए एक बार समझाइश की जाए और इसके बाद भी लोग नहीं मानें तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए। इस दौरान नगर निगम के अतिरिक्त आयुक्त मुकुट बिहारी जांगिड, अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त सुमित गुप्ता सहित निगम और पुलिस के आलाधिकारी मौजूद रहे।

पुलिस सुविधा को ध्यान में रख कैमरे लगाएं
आयुक्त लोकबंधु ने स्मार्ट सिटी के अधिकारियों को निर्देश दिए कि स्मार्ट सिटी की ओर से शहर मे लगाए जा रहे कैमरों का स्थान तय करने से पूर्व कार्य योजना को पुलिस अधिकारियों से साझा कर पुलिस की सुविधानुसार कैमरों के स्थान तय करें।

पार्किंग फ्री रोड के लिए सर्वे करें
बैठक मे परकोटा क्षेत्र की एक सड़क को पूरी तरह पार्किंग फ्री बनाने के मुद्दे पर निगम आयुक्त एवं पुलिस उपायुक्त ने निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि नगर निगम और पुलिस के अधिकारी संयुक्त रूप से ऐसे मार्ग का सर्वे करवाएं जिसे पार्किंग फ्री किया जा सके।

इन पर भी चर्चा

- अवैध डेयरियों और अतिक्रमण पर कार्रवाई करने के दौरान पुलिस की ओर से आश्वस्त किया कि निगम की मांग पर तत्काल जाब्ता उपलब्ध करवाया जएगा।
- जगह-जगह लगने वाले बेतरतीब हाट बाजारों को व्यवस्थित ढंग से लगवाया जाए।
- परकोटा क्षेत्र में घरों के बाहर लंबे समय से खड़े वाहन जिनसे मार्ग रुकता है एवं परेशानी होती है उनके मालिकों को नोटिस दिया जाएगा। इसके बाद कार्रवाई की जाएगी।
- नए पार्किंग स्थल जल्द चिन्हित किए जाएंगे। पार्किंग के नए टेंडर में इलेक्ट्रॉनिक्स पेड स्लिप की व्यवस्था की जाए ताकि वाहन की पार्किंग का समय तय हो सके। पार्किंग स्थल पर कार्यरत ठेकाकर्मियों का पुलिस वैरिफिकेशन करवाया जाए।
- मीट की दुकानों एवं रेस्टोरेंट के बाहर संचालक के माध्यम से सफाई की व्यवस्था करवाई जाए।
- दुर्घटना संभावित चैराहों, स्थानों को चिन्हित कर वहां स्पीड ब्रेकर और डार्क क्षेत्रों में लाइट की व्यवस्था करवाई जाए।
- कोविड गाइड लाइन्स का सख्ती से पालन करवाएं तथा उल्लंघन करने वालों पर जुर्माना लगाएं।

Amit Pareek
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned