वैदिक संस्कार एवं शिक्षा बोर्ड की स्थापना की तैयारी

राज्य सरकार ने वैदिक संस्कार एवं शिक्षा बोर्ड की स्थापना की तैयारी कर ली है। इसके लिए सोमवार को एक आदेश जारी करके ड्रॉफ्ट तैयार करने के लिए राज्य स्तरीय समिति का गठन किया है।

By: Prakash Kumawat

Published: 29 Jun 2020, 10:35 PM IST

वैदिक संस्कार एवं शिक्षा बोर्ड की स्थापना की तैयारी
ड्रॉफ्ट तैयार करने के लिए राज्य स्तरीय समिति का गठन

जयपुर, 29 जून। राज्य सरकार ने वैदिक संस्कार एवं शिक्षा बोर्ड की स्थापना की तैयारी कर ली है। इसके लिए सोमवार को एक आदेश जारी करके ड्रॉफ्ट तैयार करने के लिए राज्य स्तरीय समिति का गठन किया है।

आदेश के अनुसार समिति में डॉ. अनुला मौर्य को संयोजक, डॉ. सुषमा सिंघवी, डॉं. राजकुमार जोशी, रामसिंह चौहान, फिरोज अख्तर, एन. एस. बिस्सा, रामप्रसाद महाराज को सदस्य बनाया गया है। समिति के निदेशक, संस्कृत शिक्षा को सदस्य सचिव नियुक्त किया गया है। समिति का कार्यकाल 6 माह का होगा तथा इसका प्रशासनिक विभाग संस्कृत शिक्षा विभाग, सचिवालय जयपुर में होगा।

आधारभूत सुविधाओं के विकास के प्रयास

अल्पसंख्यक मामलात मंत्री शाले मोहम्मद ने कहा है कि ग्रामीण विकास के लिए राज्य सरकार भरसक प्रयत्नशील है और इस दिशा में कहीं कोई कमी नही रखी जाएगी। ग्रामीण क्षेत्रों में बुनियादी लोक सेवाओं और आधारभूत सुविधाओं के विकास एवं विस्तार के लिए राज्य सरकार हर स्तर पर व्यापक प्रयासों में जुटी हुई है।
मोहम्मद ने सोमवार को जैसलमेर के ग्रामीण क्षेत्रों के दौरे में भीखोड़ाई स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में इन्टरलॉकिंग सड़क कार्य के लोकार्पण किया। इस अवसर कोरोना महामारी से बचाव एवं रोकथाम के लिए सभी प्रकार की सावधानियां बरतने और सुरक्षात्मक उपाय अपनाने के प्रति गंभीर रहने का आह्वान किया है और कहा है कि राज्य सरकार ने इसी को ध्यान में रखते हुए विशेष जागरुकता अभियान चला रखा है। इस अभियान के संदेश को गांव के हरेक व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए ग्रामीण आगे आकर लोक चेतना में भागीदारी अदा करें। इस अवसर पर उन्होंने ग्रामीणों को मास्क और हैण्ड सेनेटाईजर वितरित किए और इनके नियमित व समुचित उपयोग करना चाहिए।

Prakash Kumawat
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned