कटले को बचाने के फायर फाइटिंग सिस्टम लैस बनाने की तैयारी, स्मार्ट सिटी को सौंपी कमान

आगजनी की घटनाओं के बाद पुरोहितजी के कटले पर फोकस

By: Priyanka Yadav

Published: 25 Apr 2018, 11:15 AM IST

जयपुर . परकोटे में घनी आबादी व संकरी गलियों के बीच चल रहा पुरोहितजी का कटला अब फायर फाइटिंग सिस्टम से लैस होगा। यह प्रोजेक्ट स्मार्ट सिटी कंपनी के पास आ गया है। इस पर सैद्धांतिक सहमति बनने के बाद मंगलवार को उपमहापौर मनोज भारद्वाज, स्मार्ट सिटी कंपनी सीईओ रवि जैन, निगम उपायुक्त (फायर) शिप्रा शर्मा सहित पूरी टीम कटले में पहुंची। वहां पहले लोगों को आगजनी से बचने की ट्रेनिंग दी गई, फिर कटले को फायर फाइटिंग लैस करने के लिए जगह देखी गई। आयुक्त व उपमहापौर ने माना कि मौजूदा स्थिति लक्षागृह में तब्दील होने जैसी है।

सीखी आगे बुझाने की बारीकियां

खूंटेटों का रास्ता (जहां आगजनी हुई थी) में मॉक ड्रिल के लिए टीम व संसाधन पहुंच गए। पूर्व महापौर ज्योति खंडेलवाल व अन्य कांग्रेसी कार्यकर्ता मलबे को हटाने को लेकर पहुंचे तो फिर इसे कटले में ही शिफ्ट कर दिया। फायर शाखा ने महिलां-बच्चों से भी फायर एस्टिंग्यूशर चलवाए।

3 फेज में होगा काम

1. फायर फाइटिंग सिस्टम (ओवरहैड टैंक भी)
2. रास्तों की चौड़ाई मूल स्वरूप में लाना
3. निकास द्वारों को खुलवाना

तापमान 68 डिग्री होते ही आग बुझाने का मूल प्लान

पुरोहितजी का कटला में आगजनी की घटना से बचने के लिए अग्रिशमन संसाधनों को तापमान सेंसर से जोडऩे की पहले प्लानिंग की जा चुकी है। इसमें तापमान बढऩे के साथ ही अग्निशमन संसाधन काम करने की कवायद की गई। मसलन यहां पारा 68 डिग्री सेल्सियस से ज्यादा होते ही आग बुझाने के उपकरण स्वत: काम करने लगेंगे।

ऑटोमेटिक स्प्रिंकलर कब करेगा काम

तापमान ऑपरेटिंग समय
98 डिग्री 90 सैकंड
78 डिग्री 170 सैकंड
79 डिग्री 212 सैकंड
80 से 100 डिग्री 285 सैकंड

मलबा, राख हटाने के लिए 24 घंटे का अल्टीमेटम

लोगों की परेशानी को दरकिनार कर रहे नगर निगम की आंख मंगलवार खुल गई। नेताओं के दखल के बाद अफसर सक्रिय हुए। किशनपोल, खुंटेटों का रास्ता में अवैध रूप आए संचालित लकड़ी के गोदाम में आगजनी के बाद बचे मलबे, राख को हटाने के लिए निगम ने नोटिस जारी कर दिया। पूर्व महापौर ज्योति खंडेलवाल मौके पर पहुंची तो अफसर भी सक्रिय हो गए। कुछ देर बाद ही जोन उपायुक्त ने नोटिस जारी कर 24 घंटे में मलबा हटाने का अल्टीमेटम दे दिया। निर्धारित मियाद में पालना नहीं करने पर म्यूनिसिपल एक्ट के तहत कार्रवाई करने की चेतावनी दी है। फिर निगम स्तर पर मलबा-राख हटाने की कार्रवाई होगी।

 

Show More
Priyanka Yadav
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned